पीएम मोदी पर ट्विटर यूजर्स का हमला, बोले-मोदी जी, ‘Its enough’

लाइव सिटीज डेस्क:

पाकिस्तानी सेना द्वारा सीजफायर के उल्लंघन और दो सैनिकों के शवों के साथ बर्बरता पर देशवासी आक्रोशित हैं. देश भर से लोग अपना आक्रोश सोशल मीडिया पर निकाल रहे हैं. ट्वीटर और फेसबुक पर लोगों ने इस घटना के लिए केन्द्र सरकार और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर जमकर गुस्सा निकाला है. लोगों ने ट्वीट करके सरकार से इस हमले का जवाब मांगा है और जिम्मेदारी तय करने के लिए कहा है.

गौरतलब है कि इस दुस्साहसिक घटना को अंजाम देने वाली पाकिस्तान की बॉर्डर एक्शन टीम यानी बैट पहले भी इस तरह की कार्यवाही को अंजाम देती रही है. दोपहर में भारतीय सेना की उत्‍तरी कमान ने एक बयान जारी कर कहा कि सैनिकों के शवों के साथ बर्बरता की गई है. सेना ने बयान में कहा, ”1 मई 2017 को कृष्‍णा घाटी सेक्‍टर में नियंत्रण रेखा के निकट दो फॉरवर्ड पोस्‍ट्स पर पाकिस्‍तानी सेना की ओर से रॉकेट और मोर्टार फायरिंग की गई.

साथ ही दो पोस्‍ट्स के बीच पैट्रोल ऑपरेटिंग पर बैट एक्‍शन भी किया गया. पाकिस्‍तानी सेना ने कायरानापूर्ण रवैया दिखाते हुए हमारे दो जवानों के शवों को क्षत-विक्षत कर दिया. पाकिस्‍तानी सेना का ऐसे नृशंस कृत्‍य का जल्‍द ही उचित जवाब दिया जाएगा. यह खबर आते ही सोशल मीडिया पर लोगों का गुस्‍सा फूट पड़ा है- अधिकतर के निशाने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री राजनाथ सिंह हैं, जिन्‍हें इन सबके लिए जिम्‍मेदार ठहराया जा रहा है.

 

 

 

 

 

 

 

 

वहीँ बीएसएफ की ओर से एसएसपी आर पांडे ने कहा, ‘सीमा पार से लगातार फायरिंग हो रही थी. फायरिंग से तीन जवान घायल हो गए थे. गंभीर रूप से घायल हुए दो जवानों की बाद में मौत हो गई थी. मामले की जांच की जा रही है.’ अर्द्धसैनिक बल के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि संघर्ष विराम का उल्लंघन सुबह करीब साढ़े आठ बजे हुआ. हमले में सेना के नायब सूबेदार परमजीत सिंह और सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) की 200वीं बटालियन के हेड कांस्टेबल प्रेम सागर की मौत हो गई है.