दुस्साहस: सरेआम राजधानी से किडनैप कर लिए गए थे दो भाई, आरा में पुलिस ने किया बरामद

सांकेतिक तस्वीर

लाइव सिटीज, पटना/अमित जायसवाल : अपराधियों का दुस्साहस राजधानी में बढ़ता ही जा रहा है. सोमवार की सुबह अपराधियों ने एक कारोबारी की गोली मारकर हत्या कर दी थी. काउंटर से कैश रुपए भी लूट लिए गए थे. लेकिन इस बड़ी वारदात के चंद घंटे बाद ही राजधानी में अपराधियों ने दूसरी बड़ी वारदात को अंजाम दिया है.

ये दूसरी बड़ी वारदात किडनैपिंग की है. तीन लोगों ने मिलकर पटना से दो भाई को एक साथ किडनैप कर लिया. आकाश और नीतीश को किडनैप किया गया. ये दोनों भोजपुर जिले के ही जगदीशपुर के रहने वाले हैं. इन्हें किडनैप पटना से किया गया. किडनैपिंग के बाद दोनों भाई को एक फोर व्हीलर गाड़ी में बैठाया गया. इसके बाद गाड़ी से उन्हें आरा ले जाया गया.

किडनैपिंग के इस वारदात को बेली रोड पर स्थित जे​डी विमेंस कॉलेज के पास अंजाम दिया गया. मामले की जानकारी जब किडनैप किए गए दोनों भाई के फैमिली वालों को हुई तो वो भागे—भागे शास्त्रीनगर थाना पहुंचे. जानकारी मिलने के बाद पटना पुलिस के अधिकारियों के बीच हड़कंप मच गया. कुछ घंटों के जांच के बाद पता चला कि किडनैप कर फोर व्हीलर से दोनों भाई को आरा ले जाया गया है.

बगैर समय गवाए पटना पुलिस ने भोजपुर एसपी सुधीर कुमार पोरिका से कांटैक्ट किया. आरा में पुलिस टीम को एक्टिव किया गया. जांच के दरम्यान मिली सूचनाओं के आधार पर आरा के मुफ्फसिल थाना इलाके में ही पुलिस टीम ने छापेमारी की. इस कार्रवाई में पुलिस टीम ने पटना से किडनैप किए गए दोनों भाई को सकुशल बरामद कर लिया है. साथ ही किडनैपिंग में शामिल तीन लोगों को पुलिस टीम ने अपने कब्जे में ले लिया है.

भोजपुर एसपी ने की पुष्टि

भोजपुर एसपी सुधीर कुमार पोरिका ने इसकी पुष्टि भी कर दी है. फिलहाल पुलिस टीम की छापेमारी अब भी जारी है. इसमें कुछ और लोगों के शामिल होने की आशंका है. भोजपुर एसपी की मानें तो रुपए के लेन—देन को लेकर दो पक्षों के बीच विवाद था. इसी वजह दोनों भाई को किडनैप कर लिया गया. हालांकि इस पूरे मामले का खुलासा सही तरीके से होना अभी बाकी है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*