बेगूसराय और परबत्ता विधानसभा क्षेत्र में उपेन्द्र कुशवाहा ने की चुनावी सभा, जीडीएसएफ समर्थित प्रत्याशियों के लिए मांगा वोट

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: दूसरे और तीसरे चरण के लिए सभी दलों ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है. रालोसपा अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा ने भी ग्रैंड डेमोक्रेटिक फ्रंट के प्रत्याशियों की जीत के लिए अपनी पूरी ताकत लगा दी है. ताबड़तोड़ सभाएं कर रहे हैं. इसी कड़ी में आज बेगूसराय और परबत्ता विधानसभा क्षेत्र में उन्होंने चुनावी सभा की. इस दौरान उन्होंने जीडीएसएफ समर्थित प्रत्याशियों के लिए वोट मांगा.

सभा को संबोधित करते हुए उपेन्द्र कुशवाहा ने लालू-राबड़ी और नीतीश कुमार के शासनकाल पर हमला बोला. उन्होंने कहा कि दोनों भाईयों को प्रदेश की जनता ने 15-15 साल का मौका दिया. लेकिन दोनों ने विकास के नही किया. पहले वाले ने प्रदेश का विकास करने के बजाए अपने परिवार का विकास किया. दूसरे वाले ने 15 साल में विकास करने का सिर्फ दावा किया, जबकि जमीनी सच्चाई इनके दावे से कहीं ज्यादा इतर है.



बिहार में शिक्षा रोजगार का घोर अभाव है. लोग अच्छी शिक्षा के लिए आज भी दूसरे प्रदेश की ओर से जाते हैं. रोजगार के लिए बिहार के लोग दूसरे प्रदेशों में जान जोखिम में डालकर जीवनयापन करते है. लेकिन वर्तमान सरकार को यह सब नहीं दिखता है.

कुशवाहा ने कहा कि आज भी लोग बिहार के पलायन करते हैं, जो बड़ा ही दुर्भाग्य की बात है. दोनों भाइयों को 15-15 साल का मौका मिला लेकिन दोनों ने यहां के लोगों की समस्या का निदान करने की कोशिश नहीं की. दोनों इसबार फिर लोगों के बीच जाकर एक और मौका की मांग कर रहे हैं. आपके द्वार पर ये लोग आएंगे एक बार और मौका की मांग करेंगे. लेकिन आपको सोचना है, अपने बच्चों के भविष्य के बारे में सोचना है.

इन लोगों ने 30 साल में बिहार का विकास नहीं किया. हमें एक मौका दीजिए 15 महीने में विकास झलकने लगेगा. शिक्षा, रोजगार के लिए दूसरे प्रदेश में जाने की जरूरत नहीं होगी. यहां पर दूसरे प्रदेश के लोग रोजगार के लिए आएंगे. ऐसा बिहार हमलोग बनाएंगे.