लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : रालोसपा प्रमुख व पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा का बड़ा बयान आया है. उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि रालोसपा सड़क पर उतरकर सरकार से इस्तीफा मांगेगी. 29 जून को मुजफ्फरपुर में रालोसपा का महाधरना होगा. रालोसपा प्रमुख बीजेपी के प्रति नरम हुए. उपेंद्र कुशवाहा मंगल पांडेय के इस्तीफे पर नरम हुए जबकि सीएम नीतीश कुमार के इस्तीफे पर गरम हुए.

उपेंद्र कुशवाहा ने नीति आयोग की रिपोर्ट पर सरकार कोे घेरा. उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य सेवा में सुधार के लिए काम सही से नहीं हुए. स्वास्थ्य सेवा के मामले में बिहार सबसे पीछे है. बिहार सरकार केवल कागजों पर ही जनता से वादे करती है. उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि सरकार की विफलता से ही बच्चों की मौत हो रही है.

आपको बता दें कि उपेन्द्र कुशवाहा भले हीं लोकसभा का चुनाव हार गए हो बावजूद इसके राज्य सरकार के खिलाफ लड़ाई में पीछे नहीं हटे हैं. मुजफ्फरपुर में एईएस से सैकड़ों मासूमों की मौत मामले में नीतीश सरकार को घेरने के लिए कुशवाहा बड़ा कार्यक्रम करने वाले हैं. वे 29 जून को मुजफ्फरपुर में बड़ा धरना करेंगे. इसके बाद अगले महीने के पहले हफ्ते में मुजफ्फरपुर से पटना तक पदयात्रा करेंगे. कुशवाहा ने कहा कि बिहार में मासूमों की मौत के लिए सीएम नीतीश कुमार जिम्मेवार हैं. उन्हें मुख्यमंत्री के पद से तत्काल इस्तीफा देना चाहिए.

दरअसल, पटना में प्रेस कांफ्रेंस में उपेन्द्र कुशवाहा ने कहा कि एक पल के लिए भी नीतीश कुमार को गद्दी पर रहने का हक नहीं. हालांकि कुशवाहा ने स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय के इस्तीफे के सवाल पर कहा कि नीतीश कुमार जब से सीएम बने हैं तब से बिहार में कई स्वास्थ्य मंत्री हुए हैं. ऐसे में सिर्फ स्वास्थ्य मंत्री को दोष देना ठीक नहीं. पूरी जिम्मेवारी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की है जो 15 सालों से मुख्यमंत्री की कुर्सी पर हैं.