विधानसभा में मुख्यमंत्री की मौजूदगी पर बवाल विपक्ष कर रहा हंगामा.

लाइव सिटीज सेंट्रल डेस्क: बिहार विधानसभा के तीसरे दिन सत्र की शुरुआत से ही हंगामा जारी है. जब सभा की कार्यवाही शुरू हुई तो विपक्षा शोर मचाने लगा. तीसरे दिन शेष बचे चार सदस्यों का शपथ ग्रहण हुआ. इसके बाद विधान सभा अध्यक्ष के चुनाव की प्रक्रिया शुरू हो गयी. प्रोटेम स्पीकर जीतन राम मांझी ने अध्यक्ष पद के चुनाव को लेकर प्रक्रिया शुरू कराई. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के विस में रहने पर भारी बवाल शुरू हो गया. तेजस्वी यादव ने कहा कि विस अध्यक्ष चुनाव में नीतीश कुमार का क्या काम है. वह तो इस सदन के सदस्य भी नहीं हैं.

प्रोटेम स्पीकर ने पहले सर्वसम्मति से अध्यक्ष पद के चुनाव करने को कहा,लेकिन विपक्ष ने इसे खारिज कर दिया. इसके बाद मतदान की प्रक्रिया शुरू हो गयी. सदन में सीएम नीतीश कुमार के रहने पर राजद सदस्यों ने आपत्ति उठाई और जमकर हंगामा करने लगे. राजद के विधायक आसन के सामने आकर नारेबाजी और हंगामा करने लगे. तेजस्वी यादव और महागठबंधन के सदस्य वेल में पहुंच गए और बिना मुख्यमंत्री के सदन से बाहर गए चुनाव संभव नहीं.



तेजस्वी यादव ने कहा कि वोट के दौरान नीतीश कुमार विधानसभा के अंदर नहीं बैठ सकते. यहां किसी प्रकार के नियम का पालन नहीं किया जा रहा ऐसे में कायदे-कानून को फाड़ कर फाड़ देना चाहिए. वहीं संसदीय कार्य मंत्री विजय चौधरी ने कहा कि नीतीश कुमार मुख्यमंत्री हैं और सदन के नेता हैं. ऐसे में वे सदन में रह सकते हैं. सिर्फ वे मतदान में भाग नहीं ले सकते. प्रोटेम स्पीकर ने भी आसन से कहा कि वे सदन के नेता हैं.लिहाजा सदन में रह सकते हैं.