रेल यात्रा में भूल गए पहचान पत्र तो न ले टेंशन, स्मार्ट फोन है ना…

लाइव सिटीज डेस्क : ई-टिकट हो या काउंटर टिकट, रेल यात्रा के दौरान पहचान पत्र दिखाना अनिवार्य है. लेकिन कभी-कभी लोग पहचान पत्र साथ ले जाना भूल जाते हैं. ऐसे में फिर उनकी यात्रा अवैध मान ली जाती है. और जुर्माना भरना पड़ता है अलग. लेकिन भारतीय रेल ने अब एक ऐसी सुविधा दी है. जिससे यात्रियों को इन सब मुसीबतों से बाहर निकलने में आसानी होगी.  बस जरूरत है स्मार्ट फोन और इंटरनेट कनेक्शन की. 

अब रेल यात्रा के दौरान पहचान के लिए यात्री अपने आधार कार्ड का डाउनलोडेड प्रति मोबाइल पर दिखा कर यात्रा कर सकते हैं. मोबाइल पर दिखाए गए आधार की प्रति भी आधार कार्ड की तरह ही मान्य होगा. इससे पहले ई टिकट लेकर यात्रा करने वाले यात्रियों को प्रिंटेड आधार कार्ड दिखाना पड़ता था. बता दें कि पहले रेल टिकट भी प्रिंट करके साथ रखना अनिवार्य था. जिसे बाद में रेलवे ने एसएमएस  सिस्टम लाकर टिकट प्रिंटिंग की अनिवार्यता को खत्म कर दिया. अब लोग बस मोबाइल पर टिकट बुकिंग का मैसेज दिखा कर निश्चिन्त हो जाते हैं.  

सीपीआरओ राजेश कुमार ने कहा आरक्षित श्रेणियों में यात्री पहचान के लिए आधार कार्ड के अलावा 10 तरह के अन्य कार्ड भी दिखा सकेंगे.

रेलयात्रा के लिए विकल्प

चुनाव आयोग द्वारा जारी वोटर आईडी कार्ड, पैन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर लिस्ट में फोटो सहित नाम, स्कूल या कॉलेज द्वारा जारी पहचान पत्र,  राष्ट्रीयकृत बैंकों द्वारा जारी फोटोयुक्त पासबुक, पासपोर्ट, बैंकों द्वारा जारी फोटोयुक्त क्रेडिट कार्ड, प्रिंटेड आधार कार्ड या डाउनलोडेड ई आधार, फोटो युक्त राशन कार्ड.

यह भी पढ़ें-  रेलवे के इस एप से रेल ही नहीं, एयर टिकट भी होगी बुक