बिहार में 4257 गेस्ट टीचर की बहाली, सैलरी 1000 रुपये रोज

लाइव सिटीज डेस्क : बिहार में टीचिंग में करियर बनाने के इच्छुक यदि गेस्ट टीचर के रूप में पढ़ाना चाहते हैं. तो उनके लिए बिहार सरकार बेहतरीन मौका देने जा रही है. जल्द ही 4257 गेस्ट टीचर की बहाली होने वाली है. दरअसल, बिहार में माध्यमिक शिक्षा के अंतर्गत राजकीय, राजकीयकृत व राष्ट्रीय तथा माध्यमिक शिक्षा अभियान द्वारा संचालित उत्क्रमित विद्यालयों में अतिथि शिक्षकों की बहाली के लिए पहले ही विभागीय स्तर से संकल्प जारी कर दिया गया है. अब विभाग ने इसे अमल में लाने की तैयारी शुरू कर दी है. संकल्प के अनुसार विभिन्न विषयों में पठन-पाठन के सुसंचालन के लिए राज्य भर में 4257 अतिथि शिक्षकों की बहाली की जायेगी.

विभागीय सूत्रों की मानें, तो अतिथि शिक्षकों को 1000 हजार रुपये प्रति कार्य दिवस तथा महीने में अधिकतम 25 हजार रुपये पारिश्रमिक का भुगतान किया जायेगा. संकल्प में राज्य के बेरोजगार युवक-युवतियों को अतिथि शिक्षक के पद पर अवसर प्रदान करने की बात कही गयी है. इसके लिए मान्यता प्राप्त किसी विश्वविद्यालय से कम से कम 50 प्रतिशत अंकों के साथ स्नातकोत्तर उत्तीर्ण होना अनिवार्य है.

इसके अलावा एनसीटीइ अधिनियम लागू होने से पूर्व बीएड अथवा बीएड की डिग्री होना अनिवार्य बताया गया है. साथ ही माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा (पेपर-2) उत्तीर्ण अभ्यर्थियों को प्राथमिकता दिये जाने की बात कही गयी है.

19502 शिक्षकों की बहाली का अभी और करना होगा इंतजार, जानिए क्यों

बताया जा रहा है कि गणित, भौतिकी व रसायन शास्त्र विषय में योग्य अभ्यर्थियों की कमी होने की स्थिति में बीटे या एमटेक योग्यताधारी अभ्यर्थियों को भी अवसर प्रदान किया जायेगा. अभ्यर्थी की योग्यता 55 प्रतिशत अंकों के साथ बीटेक अथवा एमटेक होनी चाहिए. विषयवार रिक्तियों को देखें, तो अंग्रेजी 1041 , गणित 791, भौतिकी 1024, रसायन शास्त्र 974, प्राणी शास्त्र 137, वनस्पति शास्त्र 290 पदों पर बहाली होगी.

पहले चरण में चार हजार के करीब शिक्षकों को बहाल किया जायेगा. जिन स्कूलों में जरूरत होगी, वहां शिक्षकों को भेजा जायेगा. वहीं, शिक्षा मंत्री ने मीडिया को बताया है कि जरूरत पड़ी, तो सेवानिवृत्त और अनुभवी शिक्षकों को भी काम में लगाया जायेगा.

देखें जरुरी वीडियो : #मुजफ्फरपुर के भ्रष्ट एसएसपी #विवेककुमार को जेल जाने से कैसे बचाया गया, अज्ञात लोगों के विरुद्ध एफआईआर क्यों हुई, एसएसपी के खिलाफ जांच दारोगा को क्यों मिला,सुपारी गैंग फिर कैसे एक्टिव हो गया है . बता रहे हैं सीनियर जर्नलिस्ट #शैलेन्द्रदीक्षित और #ज्ञानेश्वर …

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*