खुशखबरी : बच गए 2213 पदों पर शिक्षकों की फिर होगी बहाली, 34540 पदों पर थी वैकेंसी

लाइव सिटीज डेस्क : टीचर बनने की आस में अब तक इंतजार कर रहे लोगों के लिए खुशखबरी है. अब नियुक्ति का रास्ता साफ है. राज्य में 34,540 कोटि के शिक्षकों के रिक्त पदों पर नियुक्ति की प्रक्रिया एक बार फिर शुरू हो रही है. बिहार विशेष शिक्षक नियुक्ति नियमावली के तहत 2010 के तहत सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद इस कोटि के शिक्षकों की नियुक्ति प्रक्रिया आरंभ हुई थी.

नियुक्ति प्रक्रिया का जिम्मा बिहार एसएससी को मिला. प्रक्रिया पूरी होने के बाद 2213 पद खाली रह गए. सुप्रीम कोर्ट में नियोजन के लिए दिये गए आदेश के तहत सभी पदों पर नियुक्ति होनी है. 34,540 पदों के लिए 1,23,149 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया था. बिहार एसएससी के वर्ष 2010 में जारी विज्ञापन संख्या 210 के तहत ये आवेदन आए थे. इसके आधार पर नियोजन की प्रक्रिया को पूरा किया जाना था. इसके लिए आयोग ने 34,540 पदों पर नियुक्ति के लिए मेधा सूची का प्रकाशन किया था. हो गया दारोगा बहाली पीटी परीक्षा की डेट का एलान, मार्च महीने में इस तारीख को होगी



इस मेधा सूची के आधार पर नियोजन की प्रक्रिया पूरी होने पर कुल 32,327 अभ्यर्थियों ने सेवा में योगदान दिया. अन्य अभ्यर्थियों के टर्न अप नहीं होने के कारण नियुक्ति प्रक्रिया पूरी नहीं हो सकी. इसके बाद अभ्यर्थियों ने रिक्त पदों के लिए दूसरी मेधा सूची जारी करने की मांग की. आयोग की ओर से अभ्यर्थियों के मामले में कार्रवाई नहीं हुई तो वे एक बार फिर कोर्ट की शरण में गए. सुनवाई के बाद कोर्ट ने बची सीटों पर नियुक्ति का निर्देश दिया. बीएसएससी के अध्यक्ष संजीव कुमार सिन्हा ने बताया कि कोर्ट के आदेश तहत नियुक्ति की प्रक्रिया शुरू की गई है. नियुक्ति मामला लटके रहने के कारण विद्यार्थियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा था. अभ्यर्थी शिक्षा विभाग बिहार एसएससी कार्यालय का चक्कर काट रहे थे. नियुक्ति प्रक्रिया शुरू होने से अभ्यर्थियों में उम्मीद जगी है कि उनकी नियुक्ति भी अब हो सकेगी.