आंदोलनरत किसानों को लेकर क्या बोल गए कृषि मंत्री अमरेन्द्र प्रताप सिंह, आ गया सियासी भूचाल

लाइव सिटीज,सेंट्रल डेस्क :  दिल्ली बॉर्डर पर आंदोलनरत किसानों को लेकर बिहार के कृषि मंत्री अमरेन्द्र प्रताप सिंह ने अजीबोगरीब बयान दे डाला. उनके बयान पर प्रदेश की सियासत गर्म हो गयी है. कृषि मंत्री अमरेन्द्र प्रताप सिंह ने प्रदर्शन पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि दिल्ली बॉर्डर को जाम कर बैठे लोग किसान नहीं है बल्कि सभी दलाल है. वहां कोई किसान धरना पर नहीं बैठा है.

सोनपुर में बाबा हरिहरनाथ मंदिर में पूजा अर्चना करने पहुंचे मंत्री ने किसान आंदोलन पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए ये बातें कही. मंत्री ने कहा कि कुछ मुट्ठी भर लोग किसान आंदोलन में शामिल है जो कृषि कानून के बारे में गलतफहमी फैला रहे हैं. जबकि कृषि कानून किसान हित में है, और इससे किसानों का भला होने वाला है.



उन्होंने कहा कि सिर्फ दिल्ली बॉर्डर पर ही किसान नहीं है बल्कि पूरे देश में सारे साढ़े पांच लाख गांव में किसान है. लेकिन यहां कोई किसान आंदोलन नहीं चल रहा है किसान आंदोलन को लेकर उन्होंने मीडिया पर भी अपनी भड़ास निकाली.

मंत्री अमरेन्द्र प्रताप के इस बयान पर बिहार की सियासत गरम हो गयी है. बिहार कांग्रेस ने पलटवार करते हुए कहा कि कृषि मंत्री ने इस प्रकार के बयान देकर उनका अपमान करने का काम किया है. उन्हें माफी मांगनी चाहिए. दिल्ली बॉर्डर बैठे सभी लोग किसान है. जो केन्द्र सरकार के काला कानून के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं. लेकिन सरकार उनकी सुनने के बजाए अपनी राग अलाप रही है.