आदरणीय शिवराज सिंह जी, ये तो बहुत गलत है !!

फुलपरास(मधुबनी):  भोपाल(मध्यप्रदेश) से किसी पीड़ित छात्र के द्वारा एक विडियो भेजा गया है. इस विडियो एवं रिपोर्ट के मुताबिक, एल.एन.सी.टी. अभियंत्रण महाविद्यालय, भोपाल में पढ़ाई कर रहे बिहारी छात्र इन दिनों दहशत में जी रहे हैं. कई छात्रों एवं उनके अभिभावकों ने फोन कर एवं ह्वाट्स एप पर उपरोक्त संदर्भ में जानकारी दी है कि विगत सोमवार को बिहार के कुछ छात्रों के साथ स्थानीय छात्रों ने जमकर मारपीट की.

मारपीट में जख्मी दो छात्र घायल होकर अस्पताल में इलाज करवा रहे हैं. घटना के बावत जानकारी यह है कि उक्त इंजीनियरिंग कॉलेज में पढ़ रहे कुछ गुंडा प्रवृत्ति के छात्र ऐसी गतिविधियों से दूर रह कर सिर्फ पढ़ाई—लिखाई करने वाले छात्रों को किसी नेता के आगमन में स्वागत के लिए जुलूस एवं नेताओं की रैलियों आदि में भीड़ का हिस्सा बनने के लिए चलने हेतु दबाव बनाता रहता था. कॉलेज प्रशासन से इस बावत शिकायत करने का भी कोई फायदा नहीं हुआ.

https://youtu.be/m1PbgV5zaY4?list=PLjEurIcH-QVL3iugzEfFU2GzeNvjrzqT4

छात्र ऐसी गतिविधियों का हिस्सा बनने पर आनाकानी करते थे जो छात्रनुमा गुंडों को नागवार गुजरता था. इसी बात से खफा उन गुंडों ने निरीह बिहारी छात्रों को निशाना बनाया. शाम के समय छात्रों को लेकर लौट रही कॉलेज की बस को स्थानीय गुंडा छात्रों ने निशाना बनाया तथा उस पर सवार बिहारी छात्रों के साथ मारपीट की.

बस में बैठी छात्राओं से भी अभद्र व्यवहार किया गया.

कई अभिभावकों ने इसकी जानकारी दी है कि उक्त कॉलेज में अध्ययनरत तकरीबन चालीस प्रतिशत छात्र बिहार के विभिन्न जिलों के हैं जो इन दिनों मारपीट की उक्त घटना को लेकर दहशत में हैं तथा कॉलेज जाने से डर रहे हैं. छात्रों के अभिभावकों ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार समेत राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद, भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी एवं अन्य राजनेताओं से मामले में तुरंत हस्तक्षेप करने की गुहार लगाई है ताकि सूबे से बाहर पढ़ रहे बिहार के बच्चे भयमुक्त हो अध्ययन कर सकें और उनके अभिभावक अपनी संतानों की सुरक्षा के प्रति आश्वस्त रह सकें.