“हमारे लिए क्या बचा है बोलने के लिए”, बीजेपी सांसद रूढी की “एंबुलेंस” से शराब मिलने पर बोले तेजस्वी

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: सारण सांसद व बीजेपी नेता राजीव प्रताप रूढी के ‘एंबुलेंस’ से मिले शराब को लेकर आरजेडी ने सत्तापक्ष पर जबरदस्त हमला बोला है. नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी ने इस मामले पर कहा कि हमारे लिए क्या बचा है बोलने के लिए, और ना ही सत्तापक्ष वालों के पास इसका जवाब है. सासंद निधि से खरीदी गयी एंबुलेंस से बिहार में शराब की तस्करी हो रही है. अब इससे बड़ा सबूत क्या हो सकता है. यह सबसे बड़ा सबूत है कि बिहार में शराबबंदी नहीं है.

उन्होंने कहा कि जिनको यह जिम्मेवारी है इसको रोकने की उनसे पूछा जाना चाहिए. हमलोग इसको लेकर आवाज उठाते हैं तो वो लोग मुद्दा को भटकाने लगते हैं. जब हमलोगों को मरीज ढोने की जरूरत थी तब एंबुलेंस से बालू ढोया जाता था. अब इससे शराब ढोया जाता है. इससे ज्यादा सरकार के लिए शर्म की क्या बात हो सकती है.

आरजेडी बहुत पहले से कहता आ रहा है कि बिहार में कहीं भी शराबबंदी नहीं है. अब तो खुलेआम सांसद फंड की गाड़ी से बिहार में शराब ढोयी जा रही है. क्या अब भी मुख्यमंत्री करेंगे की- हम ना तो किसी को फंसाते हैं और ना ही किसी को बचाते हैं. अब मुख्यमंत्री की अंतरात्मा नहीं जगती है. उन्होंने बिहार का भठ्ठा बैठा दिया है. वो पूरी तरह फेल हो चुके हैं.

पूरा का पूरा सिस्टम कोलेप्स कर गया है. यूरिया के लिए किसानों की लंबी लाइन वाली वीडियो का जिक्र करते हुए कहा कि बिहार मे किसान परेशान है. मर रहे हैं, लेकिन सरकार उनकी सुध नहीं ले रही है. मुख्यमंत्री ने इस मुद्दे पर अभीतक एक शब्द नहीं कहा है. अभियंता दिवस के दिन सीएम के वादे को ढकोसला करार देते हुए कहा कि कहां गए उनके वादे. क्यों नहीं दे रहे अभियंताओं को रोजगार ?.