बिहार में काहे की शराबबंदी ! शराब माफिया गांव-गांव में स्प्रिट से बना रहे शराब, मुजफ्फरपुर में पकड़ा गया

लाइव सिटीज, अभिषेक/मुजफ्फरपुर: बिहार में पूर्ण शराबबंदी है, लेकिन शराब की खरीद बिक्री का खेल बंद नहीं है. ताजा मामला सकरा थाना क्षेत्र के गोरिघमा गांव का है, जहां शराब माफियाओं के माध्यम से शराब बनाई जाने की बात सामने आई है.

दअरसल शराब माफियाओं के द्वारा स्प्रिट से अवैध शराब बनाने की तैयारी हो रही थी जिसकी भनक सकरा थाने की पुलिस को लग गई. पुलिस ने छापेमारी कर अवैध शराब बनाने की सामग्रियां बरामद किया. बरामद सामानों में रैपर, स्प्रिट ,बोतले आदि शामिल हैं. पुलिस ने 5 शराब तस्कर को गिरफ्तार किया है.

डीएसपी पूर्वी मनोज पांडे ने बताया कि पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर छापेमारी की. जिसमें शराब बनाने की सामग्री बरामद हुई है. बरामद सामान से साफ हो जाता है कि यह सभी अवैध शराब बनाने की तैयारी में थे. स्प्रिट कहां से आई है और कहा डिलीवरी होनी थी इसकी पूरी चैन की पुलिस छानबीन में जुटी हुई है. सभी को चिन्हित किया गया है, और छापेमारी की जा रही है. जल्द ही गिरफ्तारी की जाएगी.

बता दें कि कुछ दिनों पहले ही जिले के कटरा और मनियारी इलाके से जहरीली शराब से आधा दर्जन से अधिक लोगों की मौत हो गई थी. जिसके बाद पुलिस और उत्पाद विभाग की कार्यशैली पर सवाल उठने लगे. अब पुलिस शराब माफियाओं के विरुद्ध कार्रवाई में जुटी हुई है. इसी क्रम में पुलिस को यह सफलता हाथ लगी है.