टिकट कटा तो जब भुक्का पार के रोने लगे कैंडिडेट… देखने को लग गई भीड़…

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बिहार विधानसभा चुनाव में टिकट ना मिलने से नाखुश नेताओं के रोने का सिलसिला थम नहीं रहा है. कल भाजपा की विधायिका बेबी कुमारी को टिकट नहीं मिलने बाद उन्होंने एलजेपी ज्वाइन करने का निर्णय ले लिया. प्रेस कॉन्फ्रेंस में उनकी आंखें भर आई. इसके बाद अब आरजेडी नेता सुरेश यादव भुक्का पार के रोने लगे. उन्हें देखने के लिए भीड़ लग गई. बाद में माजरा समझ में आया तो कुछ लोगों ने जहां हिम्मत दी, वहीं कुछ लोग मजाक उड़ाने में लग गए.

वाकया रक्सौल विधानसभा क्षेत्र का है. दरअसल, आरजेडी नेता सुरेश यादव रक्सौल से विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ना चाहते थे. लेकिन यह सीट महागठबंधन में बंटवारे के बाद कांग्रेस के कोटे में चली गई. इसके बाद सुरेश यादव फूट-फूटकर रोने लगे. उनके रोने का वीडियो अब सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है. वे रोने भर नहीं रहे, बल्कि अपना गुस्सा पार्टी के नेताओं पर उतारा.



टिकट नहीं मिलने से खफा सुरेश यादव ने कहा कि उनके साथ धोखा किया गया है. वह 2005 से ही आरजेडी के लिए काम कर रहे हैं. वे पार्टी के प्रति समर्पित नेता हैं. लेकिन उनके साथ धोखेबाजी की गई है. उनको टिकट नहीं मिला. लेकिन वह महागठबंधन के उम्मीदवार को हराने की कसम खाते हैं. वह निर्दलीय ही चुनाव मैदान में उतरेंगे. क्षेत्र की जनता उनके साथ है.

बेबी कुमारी भी नहीं रोक पाई थी आंसू

नरकटियागंज की महिला बीजेपी नेता को भी टिकट नहीं मिला. इसके बाद वह बैठक में ही रोने लगीं. उन्होंने निर्दलीय चुनाव लड़ने की घोषणा कर दी. बाद में वे लोजपा में शामिल हो गईं. अब वह बोचहा से एलजेपी के टिकट पर चुनावी मैदान में उतरी हैं. इसके बाद पीसी में उनकी आंखें डबडबा गई थीं.