बिहार में कहां है कानून? खड़गपुर के गंगटा जंगल में रातभर यात्रियों को लूटते रहे अपराधी, नहीं था उन्हें पुलिस का खौफ

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बिहार में पर्यटक स्थल के रूप में फेमस भीमबांध के निकट वर्षों बाद फिर अपराधी एक्टिव मोड में आ गए है. गंगटा जंगल के निकट लुटेरों ने मुंगेर-जमुई वाया खड़गपुर मुख्य मार्ग को बाधित कर यात्री वाहनों से लाखों की संपत्ति लूट ली. सूत्रों के अनुसार, सड़क लुटेरों ने दो दर्जन यात्री वाहनों को निशाना बनाया. लूटपाट के दौरान विरोध करने पर यात्रियों के साथ बेरहमी के मारपीट भी की. पुलिस के साथ भी हाथापाई की खबर है. हालांकि, पुलिस से मारपीट के बारे में बोलने से अधिकारी बच रहे हैं.

बताया जाता है कि गंगटा जंगल के सवा लाख स्थान के पहले चोरपुलवा के पास घटना को लुटेरों ने अंजाम दिया. इसी क्रम में पुलिस की पेट्रोलिंग टीम को लूट की भनक लगी और वह मौके पर पहुंच गयी. पुलिस के जवानों लुटेरों को खदेड़ा. एक अपराधी को पुलिस ने अपने कब्जे में ले लिया. हालांकि बाकी लुटेरों ने अपने साथी को छुड़ाने और दहशत फैलाने के लिए फायरिंग भी की. इसके बाद लुटेरे जंगल की ओर भाग निकले.



घटना के दौरान जख्मी हुए गंगा सराय निवासी रंजीत पासवान, लोना निवासी मनोज यादव, पटना के घोसवरी निवासी राजेश रोशन व जमुई निवासी वरुण कुमार सिंह को इलाज के लिए पुलिस ने अस्पताल भेजा. जमुई निवासी चंदन व बंगलवा निवासी रामविलास भगत भी लूट के शिकार हुए. इस बाबत खड़गपुर एसडीपीओ संजय कुमार पांडे के अनुसार, लूट की जानकारी मिलते ही पुलिस फौरन घटनास्थल पर पहुंची और एक को दबोचा. उन्होंने मीडिया से कहा कि पुलिस मामले की जांच कर रही है.

15 से 20 की संख्या में थे लुटेरे

लूट के शिकार जमुई थाना क्षेत्र के धनवे निवासी अजय सिंह के पुत्र अमरजीत सिंह बताते हैं कि अपराधियों की संख्या 15 से 20 थी और सभी हथियारों से लैस थे. वे सब गमछे से अपने-अपने चहेरे को बांधे हुए थे. अपराधियों ने सडक किनारे लगे एक पेड़ को काटकर बीच सड़क पर गिरा कर मार्ग को अवरुद्ध कर दिया था. लगभग पूरी रात तांडव मचाते रहे. इस दौरान वाहन चालकों व यात्रियों के बीच दहशत पैदा करने के लिए कई ट्रकों व स्कार्पियो के शीशे तोड़ दिए गए थे. घटनास्थल पर वाहनों के टूटे शीशे  बिखरे हुए मिले.

गिरफ्तार लुटेरा बांका का रहनेवाला

सूत्रों के अनुसार, पकड़ा गया लुटेरा बांका जिले के बेलहर थाना क्षेत्र के खेसर का रहने वाला है. उसकी पहचान बहादुर यादव के पुत्र टुनटुन यादव के रूप में की गई है. गिरफ्तार लुटेरे के पास से पुलिस ने 11 हजार 200 रुपये नगद के अलावा वाहनों में लगने वाले तीन म्यूजिक सिस्टम व मोबाइल चार्जर बरामद किये हैं. गंगटा जंगल में रात 11:00 बजे से लेकर सुबह 3:00 बजे तक लुटेरों ने घटना को अंजाम दिया.