बिहार का अगला डिप्टी सीएम कौन? सस्पेंस बरकरार, दिल्ली से लौट आए सुशील मोदी

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : सुशील मोदी दिल्ली से पटना लौट आए हैं. पटना एयरपोर्ट पर मीडिया ने उनको घेरने की कोशिश की, लेकिन वो सवालों से बचते हुए बाहर निकल गए. दिल्ली में पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ क्या बातें हुई, आखिर क्यों अचानक मोदी को दिल्ली जाना पड़ा. इस तरह के सवाल इन दिनों सियासी गलियारे में खूब तैर रहे हैं. उम्मीद जतायी जा रही थी की मोदी के दिल्ली से लौटने के बाद सारे सवालों का जवाब मिल जाएगा. लेकिन ऐसा कुछ नहीं हो सका.

हालांकि कयास लगाया जा रहा है कि बिहार में नई सरकार के गठन और संभावित मंत्रियों के नाम पर चर्चा के लिए सुशील मोदी को दिल्ली तलब किया गया था. सूत्रों की माने तो दिल्ली में मोदी की मुलाकात जेपी नड्डा, अमित शाह और भूपेन्द्र यादव के साथ हुई. सभी के साथ बिहार में सरकार का गठन और स्वरूप पर चर्चा की गयी.



बता दें कि 15 नवंबर को बीजेपी के नवनिर्वाचित विधायकों की बैठक होगी. जिसमें विधायक का दल नेता चुना जाएगा. बैठक में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, बिहार प्रभारी भूपेन्द्र यादव और बिहार चुनाव प्रभारी देवेन्द्र फडणवीश भी मौजूद रहेंगे. इनकी मौजूदगी में बीजेपी का नेता चुना जाएगा. इसके बाद दोपहर 12.30 बजे के आसपास एनडीए विधायक दल की बैठक होनी है. जिसमें सीएम पद के लिए नीतीश कुमार के नाम पर औपचारिक मुहर लगेगी.

इन सब बातों के अलावे एक और बात जो लोगों के जेहन में घूम रहा है, की बिहार का अगला डिप्टी सीएम कौन होगा, कामेश्वर चौपाल या सुशील मोदी? .इस सस्पेंस पर से कल पर्दा हटने की संभावना जतायी जा रही है. कल यह साफ हो जाएगा कि बिहार का अगला डिप्टी सीएम कौन होगा.

बिहार चुनाव में बीजेपी को 74 और जेडीयू को 43 सीटें मिली है. वहीं वीआईपी और हम पार्टी को 4-4 सीटें मिली है. इन सभी के सीटों को जोड़कर एनडीए को कुल 125 सीटें आयी है. जो बहुमत से 3 ज्यादा है. ऐसे में अगली सरकार एनडीए का बनना तय है.

उधर चुनाव पूर्व ही यह निर्धारित हो गया था की बीजेपी को ज्यादा या कम सीटें आए, नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार में अगली सरकार बनेगी. लेकिन अचानक कामेश्वर चौपाल का नाम डिप्टी सीएम के तौर आने के बाद इस पद को लेकर सस्पेंस बरकरार है.