एनडीए में कौन कितनी सीटों पर चुनाव लड़ेगा..लोजपा ने क्लीयर कर दिया

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बिहार में जेडीयू-बीजेपी कितने सीटों पर चुनाव लड़ेगी यह अभी साफ नहीं हुआ है. लेकिन लोजपा कितनी सीटों पर चुनाव लड़ेगी यह साफ हो गया हैं. एलजेपी के प्रवक्ता संजय सिंह ने पार्टी का स्टैण्ड रखते हुए कहा कि 42 सीटों से कम पार्टी को मंजूर नहीं है. इससे कम सीट का सवाल ही नहीं है. जिसके लिए बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने पहली ही आश्वस्त किया है कि पार्टी ने जितनी सीटों पर 2015 में चुनाव लड़ा था उतनी तो जरूर मिलेगी.

संजय सिंह ने एनडीए में किसको कितनी सीटों मिलनी चाहिए यह भी बताया. उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव में एलजेपी और बीजेपी का स्ट्राइक रेट सौ फीसद रहा. जबकि जेडीयू एक सीट हार गया था. इस कारण इसबार विधानसभा चुनाव में एलजेपी को 42, बीजेपी को 105 और जेडीयू को 96 सीटें मिलनी चाहिए.



उधर एलजेपी के दावों पर बीजेपी-जेडीयू ने कहा कि समय आने पर सारी समस्या को सुलझा लिया जाएगा. बीजेपी प्रवक्ता संजय टाइगर ने कहा कि सभी दल अधिक से अधिक सीटों पर लड़ना चाहते हैं. किस पार्टी को कितनी सीटें मिलेगी और कौन कहां से लड़ेगा, ये फिलहाल कोई मुद्दा नहीं है. समय आने पर सब तय कर लिया जाएगा.

वहीं जेडीयू की तरफ से मंत्री अशोक चौधरी ने कहा कि एलजेपी को अपनी बात रखने का अधिकार है. समय आने पर सभी मामले हल हो जाएंगे. एनडीए में कोई विवाद नहीं है. हर पार्टी अपनी बातों को रखती है. जिसे मिल बैठकर सुलझा लिया जाता है.

बता दें कि बीते कुछ समय से एलजेपी और जेडीयू के बीच रिश्ते तल्ख हो गए है. एलजेपी अध्यक्ष चिराग पासवान मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार  पर सरकार के कामकाज को लेकर लगातार हमलावर हैं. कोरोना संक्रमण के इलाज तथा जांच के मुद्दे पर जब चिराग पासवान ने नीतीश सरकार को घेरा तो दोनों दलों के नेता आमने-समाने आ गए थे. उधर, कुछ दिनों पहले राम विलास पासवान ने चिराग पासवान में मुख्‍यमंत्री बनने की योग्‍यता की बात भी कही थी.