जमीन पर दिखने चाहिए काम, सीएम नीतीश ने अधिकारियों को दिए निर्देश- 1093 योजनाओं किया उद्घाटन

लाइव सिटीज,सेंट्रल डेस्क:  जल जीवन हरियाली के तहत 1093 योजनाओं का मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उद्घाटन किया. वीडियो कांफ्रेंसिंग द्वारा सीएम ने 638 करोड़ रूपए की लागत से बनने वाली इन योजनाओं का उद्घाटन किया. सभी योजनाएं सिंचाई एवं जल संचयन से जुड़ी हैं.

उद्घाटन कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि बिहार में सभी क्षेत्रों में विकास का काम हो रहा है. एक साल में जल जीवन हरियाली अभियान के तहत काफी काम हुआ है. इससे जमीन के अंदर के जल स्तर में सुधार हुआ है. हमें इस योजना को और आगे बढ़ना है.



वहीं सीएम नीतीश ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि हमलोगों को पर्यावरण की रक्षा के लिए हरवक्त जागरूक रहना है, और लोगों को जागरूक करते रहना हैं. उन्होंने कहा कि बिहार में हरियाली बढ़ रही है. वन क्षेत्र बढ़ रहा है.

गया और राजगीर के पहाड़ का जिक्र करते हुए सीएम ने कहा कि यहां पहले बहुत कम पेड़ थे. वन विभाग के प्रयास के अब पहाड़ों पर हरियाली लौट आई है. पहाड़ों पर पेड़ लगाए गए हैं. जिससे चारों ओर हरियाली लौटने लगी है.

सीएम नीतीश ने कहा कि जलवायु परिवर्तन की समस्या लगातार गंभीर होती जा रही है. पर्यावरण का संतुलन बनाए रखने के लिए एक मात्र उपाए हैं पेड़ लगाना. बिहार में कहीं सूखा पड़ता है तो कहीं बाढ़ का सामना करना पड़ता है. पिछले कुछ सालों से बारिश कम हो रही थी और इस साल देखिए कितनी अधिक बारिश हो रही है.

बिहार में आयी बाढ़ के बारे में जानकारी देते हुए सीएम नीतीश ने बताया कि बिहार के 16 जिले बाढ़ प्रभावित हैं. इन जिलों के 64 लाख 20 हजार लोग प्रभावित हुए हैं. इन लोगों तक राहत बचाव कार्य चलाया जा रहा है. सरकार पूरी तत्परता के साथ इनलोगों की रक्षा करने में जुटी है.

सीएम ने आगे कहा कि जल जीवन हरियाली अभियान में तालाब, पोखर, आहर और पईन जैसे जल स्रोतों पर किया गया अतिक्रमण हटाया गया है. जल स्रोतों का जीर्णोद्धार किया गया है. और यह काम आगे भी जारी रहेगा. जो लोग तालाब या पोखर किनारे रह रहे हैं उन्हें अलग जगह दिलाया जा रहा है.