अब गाड़ी दस्तावेज़ और लाइसेंस न होने पर भी नहीं कटेगा चालान, यह है वजह

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: सड़क पर आप ड्राइविंग के लिए निकले है. गलती से आपका ड्राइविंग लाइसेंस या कोई गाड़ी का कागजात भूल गए. इसके बाद ट्रेफिक पुलिस ने आपको पेपर चेक करने के लिए रोक लिया. तो चालान काटना लाजमी है. लेकिन अब ऐसा नहीं होगा. आपको इन सब झंझटो से बचने के लिए बस एक काम करना होगा.

दरअसल, भारत सरकार ने भूलने वाले लोगों को ध्यान में रखते हुए दस्तावेजों की हॉर्ड कॉपी रखने पर से पाबंदी हटा दी है. अब आप किसी भी पेपर का सॉफ्ट कॉपी रख सकते हैं. सॉफ्ट कॉपी का मतलब हुआ किसी भी दस्तावेज़ को आप अपने मोबाइल या ईमेल पर रख सकते है. इससे आपके कागजात भी सुरक्षित रहेंगे.

गौरतलब हो की सरकार ने कुछ साल पहले डिजिलॉकर लंच किया था. जिसमें आप अपने सभी कागजात सुाक्षित रख सकते हैं. डिजिलॉकर एप और वेबसाइट दोनों रूप में है. डिजिलॉकर प्रधानमंत्री की महत्वाकांक्षी योजना डिजिटल इंडिया का एक अहम हिस्सा है.

डिजिटल लॉकर में गाड़ी के दस्तावेजों के अलावे जन्म प्रमाण पत्र, पासपोर्ट, शैक्षणिक प्रमाण पत्र, लाइसेंस जैसे अहम दस्तावेजों को ऑनलाइन स्टोर कर सकते हैं. जिस वजह से आपको हार्ड कॉपी लेकर घुमने की जरूरत नहीं होगी. डिजिटल लॉकर का उद्देश्य ई-दस्तावेजों के आदान-प्रदान को बढ़ावा देना है.

लॉकर में सेव सॉफ्ट कॉपी पूरी तरह मान्य होगी, कोई इसे मानने से इंकार नहीं कर सकता. डिजिटल लॉकर में ई-साइन की सुविधा भी है जिसका उपयोग डिजिटल रूप से हस्ताक्षर करने के लिए किया जा सकता है.

कैसे करे इस्तेमाल

डिजीटल लॉकर को खोलने के लिए आपको डिजिलॉकर की वेबसाइट पर जाकर अपना खाता खोलना होगा. पंजीकरण करने के लिए आपको मुख्यपृष्ठ पर (अभी रजिस्टर करें) नामक बटन दबाना होगा और फिर नए खुले पृष्ठ पर अपने आधार कार्ड का नंबर डालना होगा. फिर आप ओटीपी या अंगुली के निशान के ज़रिए लॉगिन कर सकते हैं. लॉगिन होने के बाद आपसे जो सूचना मांगी जाए उसे भरें. इसके बाद आपका खाता बन जाएगा. खाता खुलने के बाद आप कभी भी इस पर अपने व्यक्तिगत दस्तावेज डाल सकेंगे और बिना किसी शुल्क के सुरक्षित रख सकेंगे.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*