रिटायर्ड दारोगा की हत्या मामले में दर्ज हुई एफआईआर, 8 लोगों को किया नामजद

लाइव सिटीज, पटना/क्राइम रिपोर्टर : सुबह-सुबह ताबड़तोड़ फायरिंग हुई. बैक टू बैक 8 से 10 राउंड गोलियां चलाई गई. हथियार से लैश अपराधियों ने मंगलवार की सुबह तांडव मचाया और झारखंड पुलिस से रिटायर्ड दारोगा सुनील सिंह उर्फ सिद्धि सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी. यह सनसनीखेज वारदात पटना के खुशरुपुर थाना के तहत नुरुद्दिनपुर गांव की है.

अपराधियों ने रिटायर्ड दारोगा के शरीर में 6 गोलियां उतार दी. जिस कारण मौके पर ही उनकी मौत हो गई. अचानक हुए इस वारदात के बाद पूरे इलाके में दहशत का माहौल बन गया. वारदात की जानकारी मिलते ही खुशरुपुर थाना की पुलिस टीम मौके पर पहुंची. हालांकि वारदात को अंजाम देने वाले अपराधी मौके से फरार हो चुके थे.

   
पुलिस की जांच में जो बातें सामने आई है, उसके अनुसार रिटायर्ड दारोगा की हत्या के पिछे जमीन का विवाद होने की बात समाने आई है. पटना के ग्रामीण एसपी कांतेश मिश्रा के अनुसार जमीन के एक प्लॉट को लेकर रिटायर्ड दारोगा सुनील सिंह की अपने पड़ोसी के साथ ही विवाद चल रहा था. जमीन के विवाद को लेकर दोनों पक्ष एक-दूसरे पर 2-3 एफआईआर भी पहले दर्ज करा चुके हैं. जमीन को लेकर इनका विवाद लगातार जारी था.

आरोप है कि दूसरे पक्ष के लोगों ने ही रिटायर्ड दारोगा की गोली मारकर हत्या की है. ग्रामीण एसपी ने हत्या के इस वारदात के दौरान 8 राउंड गोली चलाए जाने की पुष्टि की है. हालांकि सुनील सिंह को कितनी गोली मारी गई है, इसका पता पोस्टमार्टम से ही पता चल पाएगा. फिलहाल परिवार वालों के बयान पर हत्या की वारदात में शामिल 8 लोगों के खिलाफ नामजद एफआईआर दर्ज कराई गई है. अब तक इस मामले में किसी की कोई गिरफ्तारी नहीं हुई. नामजद लोगों को पकड़ने के लिए पुलिस की टीम लगातार छापेमारी कर रही है.