खराब रिजल्ट से नीतीश खफा, मंत्री-चेयरमैन को तलब किया

पटना (नियाज़ आलम): बिहार विद्यालय परीक्षा समिति की ओर से मंगलवार को जारी इंटर साइंस, कॉमर्स और आर्ट्स के रिजल्ट के बाद बवाल थमने का नाम नहीं ले रहा है. रिजल्ट में हुई कथित गड़बड़ी के विरोध में बुधवार सुबह भारी संख्या में छात्र काउंसिल कार्यालय के पास जमा हो गये और सरकार का विरोध करना शुरू किया.  

छात्रों के साथ पुलिस की तीखी नोकझोंक हुई और पुलिस ने छात्रों पर लाठी चार्ज कर दिया. पूरे हंगामे की खबर मिलने के बाद बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने तत्काल शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी और बोर्ड के अध्यक्ष आनंद किशोर को तलब किया. जानकारी के मुताबिक रिजल्ट पर मचे बवाल को लेकर नीतीश कुमार काफी खफा हैं. नीतीश कुमार ने अधिकारियों और शिक्षा मंत्री के साथ एक घंटे तक बैठक की और आवश्यक दिशा निर्देश जारी किये.

बैठक खत्म होने के बाद मीडिया से बातचीत में शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी ने कहा कि मुख्यमंत्री ने इस मसले पर बातचीत की और सूबे के इंटर और नौवीं-दसवीं कक्षा के विद्यालयों को शैक्षणिक रूप से मजबूत करने की बात कही. शिक्षा मंत्री ने कहा कि उस पर काम चल रहा है, बहुत जल्द सरकार उस पर एक्शन लेगी. शिक्षा मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री ने इस मामले पर रोड मैप तैयार करने की बात कही है. मूल्यांकन में गड़बड़ी के आरोप पर उन्होंने कहा कि जो बच्चे कापी की दोबारा जांच की मांग कर रहे हैं, हम उसे एक महीने के अन्दर पूरा करने का प्रयास करेंगे. अगर जांच में गड़बड़ी है तो उसे ठीक किया जाएगा. 

दूसरी ओर छात्रों और अभिभावकों की मांग है कि कॉपियों की जांच नहीं की गयी है और रिजल्ट को जान-बूझकर गड़बड़ किया गया है. काउंसिल कार्यालय पर धरने पर बैठी नवादा के वारिसअली गंज से आई छात्रा अंशु प्रिया ने बताया कि उन्हें गणित और जीवविज्ञान जैसे विषयों में 80 से ज्यादा अंक आए हैं वहीं हिन्दी में मात्र तीन अंक मिले हैं, यह कैसे संभव हो सकता है. पटना की डिंपल कुमारी को भी अंग्रेजी में 6 अंक मिले हैं.  इसी तरह साइंस के छात्र दीपक कुमार को भौतिकी में मात्र 1 अंक मिला है. सबका यही कहना है कि कापी की दोबारा जंच कराई जाए. बता दें कि मंगलवार को प्रकाशित हुए रिजल्ट में आठ लाख के करीब छात्र फेल हो गये हैं. उसके बाद पूरे बिहार में इसे लेकर बवाल मचा हुआ है.

यह भी पढ़ें-  सच ये है : गिरिडीह से समस्तीपुर पढ़ने आया था गणेश, बन गया बिहार टॉपर
BIG BREAKING : फर्जी तो है, पर कौन? टॉपर गणेश या समस्‍तीपुर का स्‍कूल, अब जांचे बिहार बोर्ड