यहां के खाताधारक ध्यान दें, अब नहीं रहेगा बिहार ग्रामीण बैंक, जानें क्या है कारण

लाइव सिटीज डेस्क : कई राष्ट्रीय बैंकों के विलय होने की ख़बरों के बीच अब बिहार में भी ग्रामीण बैंक के विलय की तैयारियां शुरू कर दी गई है. बिहार ग्रामीण बैंक को मध्य ग्रामीण बैंक में विलय कर दिया जाएगा. मतलब यह कि आने वाले दिनों में बिहार में केवल दो ग्रामीण बैंक कार्य करेंगे. अभी बिहार में मध्य ग्रामीण का प्रायोजक पीएनबी है. वहीँ अगर बिहार ग्रामीण बैंक की बात करें तो इसका प्रायोजक यूको बैंक है. लेकिन मध्य ग्रामीण बैंक में विलय होने के बाद अब इसका प्रायोजक पंजाब नेशनल बैंक ही रहेगा. मालूम हो कि बिहार में फिलहाल उत्तर बिहार ग्रामीण बैंक, बिहार ग्रामीण बैंक और मध्य बिहार ग्रामीण बैंक कार्यरत हैं.

यूएफआरआरबीयू के संयोजक डीएन त्रिवेदी ने मंगलवार को दिल्ली से बताया कि वित्त मंत्रालय कुछ ग्रामीण बैंकों का पुन: विलय कर देश के 56 ग्रामीण बैंकों की संख्या घटा कर 38 करना चाहता है. इसके लिए सभी राज्यों और प्रायोजक बैंकों को पत्र लिखकर उनकी सहमति मांगी गयी है. उन्होंने बताया कि तीनों ग्रामीण बैंकों की 2380 शाखाएं हैं. इनमें केवल उत्तर ग्रामीण बैंक की 1034 शाखाएं हैं. कर्मचारियों व अधिकारियों की संख्या 8600 है.

जदयू ने आज रोजेदारों को खुश करने के लिए सब कुछ किया . चिकन बिरयानी, मटन कोरमा,कई तरीकों के कबाब बने . देखिए, वीडियो रिपोर्ट…

त्रिवेदी ने बताया कि एक प्रतिनिधिमंडल वित्त मंत्रालय के संयुक्त सचिव सुचिंद्र मिश्रा से ग्रामीण बैंकों में सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के अनुसार व्यावसायिक बैंकों के समरूप शीघ्र पेंशन योजना 1993 लागू करने के संबंध में मिला. इस पर संयुक्त सचिव ने बताया कि कानूनी सलाह के लिए विधि विभाग को भेजा गया है, जहां से टिप्पणी प्राप्त होते ही आगे की कार्रवाई की जायेगी.

बिहार में IPS अफसरों का तबादला, राजेंद्र भील बनाये गए पूर्वी पटना के एसपी
IDBI बैंक को भी बेचने की हो रही तैयारी

केंद्र ने भारी घाटे और खराब कर्ज के बोझ तले दबे सरकारी बैंकों में सुधार की प्रक्रिया तेज कर दी है. इसमें सबसे पहले आईडीबीआई बैंक को बेचने की तैयारी है. आईडीबीआई बैंक के निजीकरण के प्रस्ताव में एक विकल्प इसकी 86 फीसदी हिस्सेदारी एलआईसी जैसे सरकारी उपक्रम को बेचने की है। सूत्रों का कहना है कि मुंबई में शुक्रवार को वरिष्ठ बैंकरों और अधिकारियों की बैठक में इस प्रस्ताव पर चर्चा की गई।

About Ranjeet Jha 2361 Articles
I am Ranjeet Jha (पत्रकार)

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*