कोरोना का कहर : प्रधान सचिव ने सभी अस्पतालों से तलब की जांच सुविधा पर रिपोर्ट

लाइव सिटीज, पटना: कोरोना महामारी के विराकल स्वरूप अब स्वास्थ्य विभाग के साथ_साथ शासन_प्रशासन में भी अफरा_तफरी मच गया है. गुरुवार को प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने सभी अस्पतालों में इलाज व्यवस्था, सुविधा एवं बेड की संख्या पर रिपोर्ट तलब की. उन्होंने सभी अस्पताल प्रबंधन को जारी निर्देश में कहा है कि कोरोना महामारी में इलाज के लिए कहां, कितनी क्षमता बची है, इसका विस्तृत रिपोर्ट सौंपा जाए.

इधर, राजधानी के अस्पतालों की स्थिति यह है कि पीएमसीएच में सभी बेड फुल हो गए हैं. यहां दो दिनों के भीतर 25 नए मरीजों को भर्ती किया गया है. एम्स में भी चार दिनों के भीतर कोई बेड खाली नहीं हैं और यहां नए मरीज नहीं लिए जा रहे हैं. स्थिति को देखते हुए राजधानी के निजी बड़े अस्पतालों में पारस और रूबन में भी बेड लगवाया गया है.

बता दें कि पिछले एक सप्ताह के भीतर प्रदेश में कोरोना मरीजों की संख्या में अप्रत्याशित बढोत्तरी दर्ज किया गया है. संक्रमण से पीड़ित लोगों की संख्या बढ़ने से राजधानी के सभी बड़े स्वास्थ्य केंद्र में सुविधाएं कम पड़ने लगी हैं. अस्पताल के बेड फुल हो गए हैं. ऐसे में भविष्य में महामारी से प्रभावित लोगों की ससमय इलाज सुविधा के लिए प्रधान सचिव ने सभी अस्पतालों से रिपोर्ट तलब की है.