बुर्ज खलीफा को मात देगा जेद्दाह टावर, जानिए कितनी होगी इसकी ऊंचाई ?

लाइव सिटीज :  दुबई के बुर्ज खलीफा टावर ऊंची इमारतों की फेहरिस्त में नंबर वन है. लेकिन जल्द ही बुर्ज खलीफा टावर का यह ताज किसी और के नाम होने जा रहा है.

 

2019 तक सऊदी अरब का जेद्दाह टावर के बन कर तैयार होने की उम्मीद है और जेद्दाह टावर ही बुर्ज खलीफा टावर का ताज छिनना वाला है. जी हां, आप को बता दें कि 2019 में जेद्दाह टावर के नाम ही सबसे ऊंटी इमारत का ताज होगा. जेद्दाह टावर की नींव 6 साल पहले ही पड़ चुकी थी. लेकिन इस रिकोर्ड तोड़ प्रोजेक्ट की लॉन्चिंग के 6 साल बाद सऊदी अरब के अरबपति ने यह उम्मीद जताई है कि अब यह जल्द ही तैयार हो जाएगा.

आपको बता दें कि जेद्दाह टावर की ऊंचाई 3,300 फुट होगी यानि 1 किलोमीटर से भी अधिक. जबकि दुनिया में सबसे ऊंची इमारत का तमगा लिए दुबई के बुर्ज खलीफा टावर की ऊंचाई कुल 2,722 फुट है. जेद्दाह टावर प्रोजेक्ट के बारे में प्रिंस अलवीद बिन तलाल ने बताया कि इस प्रोजेक्ट को पूरा होने में देरी हो रही है, लेकिन 2019 तक यह पूरी तरह से चालू हो जाएगा.

अलवलीद ने इस प्रॉजेक्ट पर काम करने वाली कंपनी की मीटिंग की अध्यक्षता की.  इस प्रॉजेक्ट का कॉन्ट्रैक्ट सऊदी बिनलादिन ग्रुप के पास है. यह कंपनी किंगडम की प्रमुख कंस्ट्रक्शन कंपनियों में से एक थी. लेकिन, 2014 में ऑइल रेवेन्यू में गिरावट के बाद से कंपनी वित्तीय संकट से जूझ रही थी.

अलवलीद ने सबसे पहले अगस्त, 2011 में इस प्रॉजेक्ट पर काम करने का ऐलान किया था. अलवलीद ने उस वक्त कहा था कि काम शुरू होने के बाद 36 महीनों के भीतर इमारत बनकर तैयार हो जाएगी. आपको बता दें कि नवंबर, 2014 में इस इमारत का चार-मंजिला फाउंडेशन तैयार हो गया था.

उस वक्त अलवलीद ने कहा था कि 2018 तक यह प्रॉजेक्ट पूरा हो जाएगा. लेकिन, इसके कुछ दिनों बाद ही किंगडम के समक्ष ऑइल रेवेन्यू में गिरावट का संकट पैदा हो गया. नवंबर, 2015 में किंगडम की होल्डिंग कंपनी ने कहा था कि जेद्दाह इकॉनमिक कंपनी ने सऊदी अरब की ही अलिनमा इन्वेस्टमेंट के साथ करार किया है.

उस वक्त इमारत में 26 फ्लोर तैयार हो गए थे. निर्माणाधीन जेद्दाह टावर से जेद्दाह शहर का बड़ा हिस्सा दिखता है साथ ही समुद्र का नजारा भी दिखाई देता है.