गांधी की कर्मभूमि से तेजस्वी ने भरी हुंकार, जनता के बीच नीतीश को करेंगे बेनकाब

लाइव सिटीज डेस्कः बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष और पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने चंपारण से जंग का ऐलान कर दिया है. तेजस्वी घर से मां राबड़ी देवी और पिता लालू प्रसाद का आशीर्वाद लेकर निकले हैं. आज बुधवार को तेजस्वी यादव ने ‘जनादेश अपमान यात्रा’ की शुरूआत मोतिहारी से कर दिया है. उन्होंने सबसे पहले ऐतिहासिक गांधी मैदान पहुंच कर महात्मा गांधी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया. उसके बाद धरना सभा को संबोधित करते हुए सीएम नीतीश कुमार को चैलेंज किया.studio11

लोगों को संबोधित करते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि वो जनता के बीच सीएम नीतीश कुमार को बेनकाब करेंगे. उन्होंने इसके लिए जनता का सहयोग भी मांगा है. बता दें कि धरना पर बैठने से पूर्व उन्होंने मोतिहारी के कचहरी चौक के पास स्थित बाबा साहेब की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया. कार्यक्रम में शामिल होने के लिए भारी संख्या में लोगों की भीड़ पहुंची है. राजद कार्यकर्ता व नेता हाथी-घोड़ा और बाइक रैली लेकर पहुंचे हैं. कार्यक्रम को शांतिपूर्ण संपन्न कराने के लिए सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए गए हैं.

तेजस्वी यादव के काफिले के कार्यकर्ताओं में खासा उत्साह है. सुरक्षा को लेकर पुलिस जवान भी तैनात किये गये हैं. पूरा शहर बैनर-पोस्टर से पट गया है. पोस्टर में लालू प्रसाद, राबड़ी देवी, तेजस्वी यादव, तेज प्रताप यादव और मीसा भारती की तस्वीर है.

राजद की खोयी साख पाने के लिए तेजस्वी यादव और तेज प्रताप यादव ने जनादेश अपमान यात्रा की शुरुआत की है. जनादेश अपमान यात्रा के जरिये 27 अगस्त को होनेवाली रैली के लिए भी राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद के दोनों बेटे पार्टी के स्थानीय नेताओं और कार्यकर्ताओं को आमंत्रित भी कर रहे हैं. उनके काफिले में हाथी-घोड़े के साथ कार्यकर्ता दिखाई दिए.

पटना से मोतिहारी पहुंचने के दौरान तेजस्वी यादव सोशल मीडिया पर खूब एक्टिव दिखे. सोशल मीडिया पर तस्वीर डाल कर उन्होंने बहुत सी बाते लिखी. उन्होंने कहा कि यह बुलाई गई नहीं नीतीश कुमार जी द्वारा ठगी गई जनता है. इसी जनता द्वारा दिए गए अपार जनादेश पर नीतीश कुमार ने डाका डलवा दिया. ये लोग जगह-जगह हमारा मनोबल और हौसला बढ़ाने आए. बिहार की न्यायप्रिय जनता में ग़ज़ब आक्रोश है. दिन-दहाडे नीतीश कुमार ने जनादेश की डकैती की, जनता करारा जवाब देगी.

 

तेजस्वी ने अपने एक ने पोस्ट में कहा कि सड़क किनारे के सारे के सारे गाँव जोश और ज़ुनून के साथ मैदान में है. जनादेश का अपमान जनता नहीं सहेगी. हिम्मत है तो आओ चुनावी मैदान में. ज़्यादा ही चेहरे का गुमान है तो फ़रिया लो चुनाव में…

यात्रा पर निकलने से पहले तेजस्वी ने मीडिया को संबोधित करते हुए सीएम नीतीश कुमार पर जमकर हमला बोला था. उन्होंने कहा था कि नीतीश कुमार ने संघमुक्त भारत की बात कही थी लेकिन वक्त आते ही बदल गए और अब जिनका विरोध करते थे उनकी ही गोद में जा बैठे हैं. नीतीश कुमार रणछोड़ हैं.

बता दें कि महागठबंधन की सरकार गिरते ही तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार पर एक के बाद एक कई आरोप लगाये. विधानसभा में उनका गरजना काफी चर्चा में रहा. उन्होंने यात्रा के दौरान कहा कि हमसे नाता नीतीश कुमार ने इसलिए तोड़ दिया कि हम पर मुकदमा हुआ था. लेकिन अभी जो बिहार कैबिनेट में मंत्री हैं उसमें 75 फीसदी पर आपराधिक मुकदमा चल रहा है. स्वयं नीतीश कुमार पर भी केस दर्ज है. हाल ही में 20 हजार का जुर्माना भी लगाया गया है. इन्होने जनता को ठगा है. चुनाव में जनता इन्हें जवाब जरूर देगी.

यह भी पढ़ें-
बिहार के लिए चलेगी कई स्पेशल ट्रेनें, त्योहारों के लिए तैयार है रेलवे
देख लें लिस्टः अब पटना ही नहीं बिहार के इन 26 जिलों से भी शुरू होगी उड़ान सेवा

About Md. Saheb Ali 3627 Articles
Md. Saheb Ali

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*