लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क :  कोरोना को लेकर केंद्र सरकार और राज्य सरकार ने लॉकडाउन का एलान किया है. सरकार लोगों को जागरूक करने के लिए हर कदम उठा रही है. खगड़िया से खबर है जहां आंगनवाड़ी सेविका लॉक डाउन को लेकर लोगों को जागरूक करने के गांव हुई थी. कुछ ग्रामीण ने न केवल आंगनवाड़ी सेविका के साथ गाली-गलौच किया. बल्कि उसे और उसके पति को पिटाई कर दिया है. वहीं इलाज के लिए जख्मी पति को पीएचसी में भर्ती किया गया है. मामले की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच में जुट गयी.

मामला बेलदौर थाना के पचाठ गांव की है. जहां सेविका लोगों को जागरूक कर रही थी. बताया जा है आंगनवाड़ी केंद्र संख्या-120 की आंगनवाड़ी सेविका प्रभा कुमारी लॉक डाउन को लेकर लोगों को जागरूक करने निकली थी. इसी दौरान वह पचाठ गांव के कुछ लोग को समूह में इकट्ठा होकर बातचीत करते देखी. जिस पर आंगनवाड़ी सेविका ने लोगों से मजमा हटाने के लिए कहा. कुछ ग्रामीण इसका विरोध कर दिया. ग्रामीणों ने सेविका के साथ गाली-गलौच भी किया. महिला को बचाने आये पति को ग्रामीणों ने पीटने लगा. इस दौरान ग्रामीणों ने आंगनवाड़ी सेविका के साथ मारपीट भी किया.

हालांकि पुलिस का कहना है कि सिर्फ आंगनवाड़ी सेविका के पति की पिटाई हुई है. पुलिस को अभी तक आवेदन नहीं मिला है. आवेदन मिलते ही केस दर्ज कर लिया जाएगा. वहीं पीड़िता का कहना है उनके साथ भी मारपीट हुआ है. इस दौरान बचाने आये उसके पति को भी लोगों ने बेरहमी से पीटा है.