पहली प्रेंजेंटेशन में ही क्रैश हुआ Microsoft का ब्राउजर, इंजीनियर ने Chrome से पूरा किया डेमो

लाइव सिटीज डेस्क : माइक्रोसॉफ्ट का वेब ब्राउजर चाहे इंटरनेट एक्सप्लोरर हो या फिर ऐज. यूजर्स इनसे बचने की कोशिश करते हैं. यूजर्स कहते हैं कि माइक्रोसॉफ्ट के ब्राउजर अक्सर क्रैश होते हैं और ये रिस्पॉन्ड भी स्लो करते हैैं. इसीलिए इंडियन यूजर अक्सर कंप्यूटर पर गूगल क्रोम यूज करते हैं. ऐसे हम नहीं बल्कि यूजर्स दावा करते हैं. हालांकि माइक्रोसॉफ्ट ने अपने नए वेब ब्राउजर ऐज को काफी फास्ट किया है और कंपनी दावा करती है कि ये गूगल क्रोम ब्राउजर के मुकाबले काफी तेज भी है.

लेकिन माइक्रोसॉफ्ट के Ignite इवेंट में कुछ ऐसा हुआ, जिससे लोग चौंक गए और हंसे बिना नहीं रह सके. दरअसल माइक्रोसॉफ्ट का इंजीनियर लाइव डेमो दे रहा थे. माइक्रोसॉफ्ट के डेमो के वक्त उनका अपना नया ब्राउजर ऐज ही यूज किया जा रहा था. इसी ऐप को कंपनी के इंजीनियर ऐज यूज कर रहे थे. लेकिन डेमोंस्ट्रेशन के बीच में वो हुआ जो दुनिया भर के यूजर्स के साथ होता है.

डेमोंस्ट्रेशन के दौरान माइक्रोसॉफ्ट का ऐज ब्राउजर क्रैश कर गया और प्रेजेंटेशन में रूकावट आ गई . अब माइक्रोसॉफ्ट के इंजीनियर ने प्रेजेंटेशन के दौरान ही गूगल क्रोम ब्राउजर डाउनलोड किया और तब जा कर उनका प्रेजेंटेशन पूरा हो पाया. इस दौरान पास में बैठे लोग हंसे बिना नहीं रह सके.

फिर हंसकर दिया ये जवाब

उन्होंने डेमोंस्ट्रेशन के दौरान ही पहले गूगल क्रोम का सेटअप डाउनलोड किया फिर उसे रन किया. इंस्टॉलेशन के दौरान गूगल क्रैश रिपोर्ट और स्टैटिस्टिक्स गूगल को भेजने के चेकबॉक्स को टिक करना होता है. उन्होंने इसे टिक नहीं किया और हंसते हुए कहा, ‘हम गूगल को और बेहतर नहीं बना सकते.’