पूर्णिया में पैथोलोजिस्ट को सरेराह मारी गोली, इलाके में दहशत

पूर्णिया(राजेश कुमार झा) : आज दिन के 11 बजे पूर्णिया के सबसे व्यस्ततम माने जाने वाला इलाका लाइन बाजार, जहां अपराधियों ने सरेआम पैथोलोजिस्ट मंथन कुमार को गोली मार दी. कानून को ठेंगा दिखाते हुए अपराधी खुले आम गोली मारकर फरार हो गए. 

सूत्रों के अनुसार इंडियन पैथोलॉजी के मालिक मंथन कुमार आज सुबह 11 बजे अपने घर से क्लिनिक जा रहे थे. इतने में एक मोटरसाइकिल पर सवार लोगों ने पूर्णिया के सबसे व्यस्त माने जाने वाले लाइन बाजार चौक के पास पीछे से आकर मंथन कुमार को गोली मारकर फरार हो गये. जैसे ही मंथन को गोली लगी मंथन रोड पर गिर पड़े. तबतक वहां आस-पास के दवा दुकानदार जुट गए. उन्हें तुरंत  बगल में सदर अस्पताल लेकर दौड़ पड़े. जहां मंथन का इलाज अभी चल रहा है. 

डॉक्टरों ने मंथन को खतरे से बाहर बताया है. डॉक्टर के अनुसार मंथन की पीठ के दाहिनी तरफ गोली लगी है, घटना पूरे लाइन बाजार में आग की तरह फैल गई. उस वक्त लाइन बाजार में तकरीबन 7 से 8 हजार लोग मौजूद थे. सभी दवा दुकानदारों ने  अपनी दुकान बंद कर रोड जाम कर दिया.

घटना की जानकारी मिलते ही के0 हाट थानाध्यक्ष मेनका रानी तुरन्त घटनस्थल पहुंचकर सड़क जाम कर रहे लोगों को आश्वासन दिया कि 24 घण्टे में अपराधी पुलिस की गिरफ्त में होगा,लाइव सिटीज से बात करते हुए के0 हाट थानाध्यक्ष मेनका रानी ने बताया कि इंडियन पैथोलोजिस्ट के मालिक मंथन कुमार को पैथोलोजी की जमीन को लेकर 4-5 साल से आपस मे विवाद चल रहा था. इसलिए ये अभी शक किया जा रहा है कि कहीं ये गोली उसी आपसी विवाद का कारण तो नही है,फिलहाल पुलिस सभी विन्दुओं पर जांच कर रही है, बहुत जल्द अपराधी पुलिस की गिरफ्त में होगा.

यह भी पढ़ें-  अब सुलझ जाएगी SHO विजय की मर्डर मिस्ट्री ! DIG विकास वैभव ने खुद लिया है एक्शन