हजारीबाग सेंट्रल जेल में बंद राजद नेता प्रभुनाथ सिंह के सेल में छापा, मिले मोबाइल और पैसे

prabhunath12
राजद नेता व पूर्व सांसद प्रभुनाथ सिंह (फाइल फोटो)

लाइव सिटीज डेस्क : गुरुवार की देर रात हजारीबाग सेंट्रल जेल में छापेमारी की गई. छापेमारी से कैदियों में हड़कंप मच गया. इस छापेमारी में इस जेल में बंद राजद नेता प्रभुनाथ सिंह के पास से 78 हजार रुपये और मोबाइल बरामद किये गए. बता दें कि राजद नेता व पूर्व सांसद प्रभुनाथ सिंह कुछ ही महीने पहले मर्डर केस में जेल भेजे गए हैं. उन्हें 9 नंबर के स्पेशल सेल में रखा गया है. उन्हें उम्रकैद की सजा
दी गई है.

बरामद सामानों की जानकारी देते पुलिस अधिकारी।

छापेमारी से कैदियों में हड़कंप मच गया. हजारीबाग के एसडीओ आदित्य रंजन के नेतृत्व में केन्द्रीय कारागार में की गई छापेमारी के दौरान तीन मोबाइल फोन, चार्जर, नशीले पदार्थ सहित 90 हजार रुपये नकद बरामद हुए हैं. छापेमारी में एक ऐसा कागज भी मिला है, जिसमें सैकड़ों लोगों के साथ लेनदेन का करोड़ों रुपये का हिसाब दर्ज है. इस संबंध में मामले की गहन जांच की जा रही है.



हजारीबाग सेंट्रल जेल।

बता दें कि हजारीबाग में बुधवार की रात करीब 11.30 बजे जिला और जेल प्रशासन की गई संयुक्त छापेमारी में तीन मोबाइल, चार्जर, लेन-देन से संबंधित आवश्यक कागजात सहित 94 हजार 300 रुपये जब्त किए गए हैं. एसपी अनूप बिरथरे को मिली सूचना पर सदर एसडीओ आदित्य रंजन और मुख्यालय डीएसपी चंदन कुमार वत्स के नेतृत्व में गठित टीम द्वारा जेल के 9 नंबर स्पेशल सेल में छापेमारी की गई.

जेल में छापेमारी के दौरान मिले सामान।

इस सेल में हत्या के मामले में बंद बिहार महराजगंज के पूर्व सांसद प्रभुनाथ सिंह और उनके भाई, फिल्म गैंग्स ऑफ बासेपुर के मुख्य किरदार सह धनबाद सिंह मेंशन्स के किंग और उत्तर प्रदेश बलिया जिला के पूर्व जिला परिषद अध्यक्ष रामाधीन सिंह समेत अन्य बंदियों के पास से कुल 94 हजार 300 रुपये, लेन-देन से संबंधित आवश्यक कागजात, तीन मोबाइल, चार्जर जब्त किया गया है. प्रभुनाथ सिंह को मर्डर केस में उम्रकैद की सजा

इस संबंध में (सदर थाना) लोहसिंघना टीओपी में एक मामला भी दर्ज किया गया है. जेल सूत्रों का कहना है कि जेलर माणिकचंद दास, बड़ा जमादार गणोश राम और कक्षपाल गोपाल सिंह के माध्यम से उक्त दोनों बंदियों को जेल के अंदर सारी सुख सुविधाएं मुहैया करायी जाती है. इस बात से जेल प्रशासन भी इंकार नहीं करती .