खुद के शौक पूरा करने को ट्रेन में की थी लूटपाट, अब 8 लुटेरे रेल पुलिस की गिरफ्त में

पटना : फ्रेंड के बर्थ डे पार्टी को अच्छे से सेलिब्रेट करना था. खुद के भी काफी सारे शौक हैं. मां—बाप पैसें कम देते हैं. ऐसे में खुद के शौक को भी पूरा करने में परेशानी हो रही थी. जब कुछ समझ में नहीं आया तो देशी कट्टा और धारदार चाकू का जुगाड़ कर लिया. फिर क्या था. ट्रेन में ट्रैवल करने वाले पैसेंजर्स को अपने टारगेट पर ले लिया.

इसके बाद ही 18 दिसंबर की देर रात राजगीर से वाराणसी जा रही बुद्ध पूर्णिमा एक्सप्रेस में ट्रैवल कर रहे पैसेंजर्स के साथ लूटपाट की. फिर चेनपुलिंग कर अपराधी फरार हो गए. इस वारदात को रेल 18 से 21 साल की उम्र के अपराधियों ने अंजाम दिया था. बीते तीन महीनों में बख्तियारपुर के आसपास ट्रेन में पैसेंजर्स के साथ लूट और डकैती की कई वारदातें हो चुकी थी.



हथियार और मोबाइल फोन बरामद

लेकिन बुद्ध पूर्णिमा में हुए लूट की वारदात ने रेल पुलिस के सुरक्षा—व्यवस्था को लेकर किए गए इंतजामों पर सवाल खड़े होने लगे. इस पूरे मामले को पटना रेल पुलिस के एसपी जितेन्द्र मिश्र ने काफी गंभीरता से लिया और पूरे मामले की जांच व अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए एक एसआईटी बना डाली. पटना रेल पुलिस के एएसपी अमृतेन्दु शेखर ठाकुर को एसआईटी का इंचार्ज बनाया गया था.

एसआईटी ने मामले की जांच शुरू की और अपराधियों की टोह में जुट गई. जांच के दौरान इन्हें क्लू मिलते गए. जिसके आधार पर बिहार शरीफ से 8 लुटेरों को अरेस्ट किया गया. जिनमें सींटू कुमार, उधीर कुमार, बंटी कुमार, शशि कुमार, सन्नी कुमार, जल्लू उर्फ अभिषेक उर्फ बिट्टू, सत्येन्द्र यादव और अमरजीत कुमार शामिल थे. इन अपराधियों के पास से दो देशी कट्टा, एक गोली, एक चाकू, 12 मोबाइल और 820 रुपए बरामद किए गए.

— फरार है सरगना है
पकड़े गए अपराधी हैं तो बिल्कुल नए. लेकिन अपराध की दुनिया में ये तेजी से अपने कदम बढ़ा रहे हैं. बीते तीन महिने में इन अपराधियों ने ट्रेन में लूटपाट के कई वारदातों को अंजाम दिया है. पटना जिले में में भी लूट की एक वारदात को अंजाम दे चुके हैं. इनक मेन सरगना समीर है. जो रेल पुलिस की गिरफ्त से अभी दूर है. रेल एसपी के अनुसार इसकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है. इस मामले के खुलासे के लिए शुक्रवार को पटना जंक्शन पर रेल एसपी ने प्रेस कांफ्रेंस किया था. इनके साथ आरपीएफ के सीनियर कमांडेंट चंद्र मोहन मिश्रा, एसआईटी इंचार्ज और एएसपी अमृतेन्दु शेखर ठाकुर सहित कई पुलिस अधिकारी थे.

— बरती जाएगी विशेष चौकसी
रनिंग ट्रेन में पैसेंजर्स के साथ लूटपाट की वारदातों को रोकने के लिए पटना रेल पुलिस की ओर से ठोस व कारगर कदम उठाए जा रहे हैं. रेल एसपी ने साफ किया कि ट्रेनों में सिक्योरिटी अरेंजमेंट्स को और भी पुख्ता किया जा रहा है. इसके लिए आरपीएफ की भी मदद ली जा रही है. कौन—कौन से ट्रेनों में एस्कॉर्ट हो रही और किसमें नहीं हो रही है. इसका रिव्यू किया जा रहा है. रिव्यू के बाद रनिंग ट्रेनों में टाइट सिक्योरिटी अरेंजमेंट्स किए जाएंगे.