8 सितंबर राशिफल : मकर राशि के जातकों के सुख- सुविधाओं में हो सकती है बढ़ोत्तरी, जानें अन्य राशियों का हाल

मेष-स्‍वास्‍थ्‍य,प्रेम,व्‍यापार,नौकरी, पति-पत्‍नी, बच्‍चे सब कुछ बहुत अच्‍छा है। ऐसे संयोग बहुत कम आते हैं। आपके गोचर का संयोग अद्भत है। हर दृष्टिकोण से आप तरक्‍की कर रहे हैं। भाग्‍य साथ दे रहा है और आप कर्मठ व्‍यक्ति हैं। सूर्यदेव की अराधना करते रहें।

वृषभ-चिंता बनी हुई है। हालांकि इस चिंता में दम नहीं है। स्‍वास्‍थ्‍य,प्रेम और निर्णय लेने की क्षमता आ गई है आपमें। हर परिस्थिति में आप उबरते जा रहे हैं। अच्‍छी स्थिति है। व्‍यवसायिक स्थिति सामान्‍य से थोड़ी खराब है लेकिन बहुत जल्‍द सामान्‍य हो जाएगी। तरक्‍की के द्वार खुल जाएंगे। शनिदेव की शरण में बने रहें। नीली वस्‍तु पास रखें।



मिथुन-आर्थिक स्थितियां, स्‍वास्‍थ्‍य, प्रेम सुधर रहा है। आप निरंतर आगे जाएंगे। कुछ लोगों को प्रेम में असफलता मिली है। कोई परेशान होने वाली बात नहीं है। गणेश जी की शरण में बने रहें। मां काली की अराधना करते रहें।

कर्क-शुक्र आपके लग्‍न में आए हैं। मानसिक चंचलता देंगे। कुछ परेशानियां हुई हैं। आप बहुत झेले हैं। बहुत खराब स्थिति से निकले हैं। कुछ भी हुआ था लेकिन आप परेशान न हों। यदि नवप्रेम का आगमन होता है तो सावधान रहिए। स्‍वास्‍थ्‍य ठीक है लेकिन यूरिक एसिड न बढ़ने पाए इसका ध्‍यान रखें। बजरंग बली की शरण में बने रहें।

सिंह-बचाव पक्ष बहुत मजबूत है। मंगल का पूरा आशीर्वाद है। गुरु का पूरा आशीर्वाद अभी नहीं मिल रहा है। थोड़ा इंतजार करिए। जीवन में धन-धान्‍य, संतान, व्‍यवसाय, स्‍वास्‍थ्‍य सब अच्‍छा है और अच्‍छा हो जाएगा। संतान, प्रेम और विद्यार्थियों के लिए पढ़ाई-लिखाई थोड़ा नरम है। बहुत जल्‍द अच्‍छा हो जाएगा। पीली वस्‍तु पास रखें। भगवान विष्‍णु की शरण में बने रहें।

कन्‍या-अभी थोड़ा शाम तक जोखिम भरा समय है। लेकिन बचाव पक्ष, प्रेम का पक्ष, संतान का पक्ष अच्‍छा है। उबर जाएंगे। वाहन चलाते समय सावधानी बरतें। कोई नई शुरुआत न करें। किसी नए कागज पर हस्‍ताक्षर न करें। लाल वस्‍तु दान करें। जैसे मसूर की दाल या लाल कपड़ा।

तुला-नौकरी-चाकरी में इजाफा, स्‍वास्‍थ्‍य बढि़या है। प्रेम की स्थिति मध्‍यम है लेकिन कोई जोखिम नहीं है। व्‍यवसाय रुक-रुक कर चलता रहेगा। कुल मिलाकर अच्‍छी स्थिति आ रही है। आने वाला दिन आपका है। बस थोड़ा धैर्य के साथ चलें। शनिदेव की अराधना करते रहें। नीली वस्‍तु पास रखें।

वृश्चिक-निर्णय लेते समय अपनों को साथ में रखें। स्‍वास्‍थ्‍य ठीक हो रहा है। शत्रुओं पर भारी पड़ रहे हैं। प्रेम अभी थोड़ा नरम-गरम चलता रहेगा। भगवान शिव की शरण में बने रहें।

धनु-त्‍वरित निर्णय लेंगे। ये निर्णय साथ देगा। दिमाग काम करने लगा है। स्‍वास्‍थ्‍य मध्‍यम है। सूझबूझ से काम कर रहे हैं। प्रेम,व्‍यापार और सारी चीजें ठीक हैं। बहुत कुछ सीखा रहा है ये समय। बिल्‍कुल परेशान होने की जरूरत नहीं है। आने वाला दिन आपका है। लाल वस्‍तु पास रखें। बजरंग बली की शरण में बने रहें। हनुमान चालीसा का पाठ करते रहें।

मकर-घर में खरीदारी, भौतिक सुख-सुविधा में बढ़ोत्‍तरी हो सकती है। चीजों को पॉजिटिव होकर निपटाएं। जो निगेटिव दिखेगा वही पॉजिटिव हो जाएगा। स्‍वास्‍थ्‍य मध्‍यम है। व्‍यापार, प्रेम सब ठीक चल रहा है। परेशान होने की जरूरत नहीं है। आपमें सृजन की क्षमता है। हो सकते तो प्रोडक्‍शन में आना चाहिए। मां काली, मां भगवती की शरण में रहें।

कुंभ-कुछ कर गुजरेंगे। बहुत अच्‍छी उर्जा आ गई है। शत्रु पक्ष भी साथ दे रहा है। बाकी भाई-बंधु तो साथ हैं ही। स्‍वास्‍थ्‍य पर केवल ध्‍यान दें। जब‍ तक शनि वक्री हैं। बाकी प्रेम व्‍यापार सब बहुत अच्‍छा है। आप संघर्ष से अर्जित करते हैं। अनुभव से सीखते हैं। गणेश जी की अराधना करते रहें।

मीन-होशियारी, त्‍वरित निर्णय, कुछ कर गुजरने की आपकी प्रवृति है। इस समय समय साथ दे रहा है। बस स्‍वास्‍थ्‍य पर ध्‍यान दें जब तक गुरु वक्री हैं। बाकी सब ठीक है। स्‍वास्‍थ्‍य मध्‍यम, प्रेम, व्‍यापार अच्‍छा है। हनुमान चालीसा का पाठ करते रहें। लाल वस्तु पास रखें।