IIT में दाखिले व काउंसिलिंग पर रोक हटी, SC ने सभी याचिकाओं को किया खारिज

लाइव सिटीज डेस्क (राज विमल) : आईआईटी जेईई में दाखिले व काउंसलिंग को लेकर आज सुप्रीम कोर्ट में अहम सुनवाई हुई. न्यायालय ने दाखिले में दिए गए ग्रेस अंकों को लेकर दायर सभी याचिकाएं खारिज कर दी. इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने ही आइआइटी में दाखिले पर रोक लगा दी थी. 

क्या है पूरा मामला
बता दें कि इस बार ली गयी आईआईटी की परीक्षा आईआईटी मद्रास ने आयोजित करायी थी. जिसमे 2 प्रश्न गलत थे. गणित और रसायन विज्ञान के इन सवालों के गलत होने पर परीक्षा दे रहे सभी अभ्यर्थियों को 18 अंक ग्रेस के रूप में दे दिया गया. जिससे पूरी मेधासूची गड़बड़ हो गई. विगत 7 जुलाई को कोर्ट ने तमिलनाडु के एक छात्र द्वारा एक याचिका की सुनवाई करते हुए दखिले पर रोक लगा दिया था. जिसमे छात्र ने कहा था कि आईआईटी उन्ही छात्रों को अंक दे जिन्होंने उन सवालों को बनाया था. जिन्होंने नहीं बनाया उन्हें अंक देने का कोई मतलब नही बनता. 

शीर्ष न्यायालय ने इसकी सुनवाई करते हुए अपने अगले फैसले तक रोक लगा दी थी. जिसको पूरा करते हुए आज कोर्ट ने यह रोक हटा दी. इस रोक के लगने से कई छात्रों का भविष्य अधर में लटक गया था.
कोर्ट ने अपने जवाब में कहा काउंसलिंग और एडमिशन केवल इसलिए नहीं रोकी जा सकती कि उन्होंने गलत सवाल को बनाने की कोशिश नहीं की़. न्यायालय ने कहा कि परीक्षा में चूंकि माइनस मार्किंग का भी प्रावधान होता है. जिसमें गलत जवाब के बदले अंक काट लिये जाते हैं. ऐसे में इससे ऐसा भी हो सकता है कि अंक कट जाने के डर से भी कई अभ्यर्थियों ने गलत सवाल को बनाने की कोशिश नहीं की होगी.

यह भी पढ़ें-  इंटर स्क्रूटनी से छात्रों ने बुने थे IIT जाने के सपने, अब टूट गए
IT-JEE 2017 की काउंसलिंग प्रक्रिया पर SC ने लगाई रोक