टीम अभिमन्यु की मांग, सुशांत सिंह मामले में हो CBI जांच, दोषी को मिले सजा

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बिहारी कभी क्षेत्रवादी नहीं रहे , हमेशा राष्ट्रवादी रहे हैं. वसुधैव कुटुम्बकम की परंपरा बिहारियों के रंग- रंग में है. जो भी आया बिहार ने हृदय खोलकर उनको गले लगाया है और सम्मान दिया. लेकिन जो अब हालात देश में बनाया जा रहा है बिहारियों को बदनाम करने का उसे हम सहेंगे नहीं.

महाराष्ट्र की सरकार द्वारा बिहार के पुलिस पदाधिकारियों का अपमान कोई भी बिहारी बर्दाश्त नहीं करेगा. यह अपमान हर दृष्टि से अनुचित और निंदनीय है. बहुत साफ शब्दों में आग्रह नहीं बल्कि चेतावनी दे रहा हूं महाराष्ट्र के देशद्रोही सरकार को कि वो बंद करे बिहारियों का अपमान.



#TeamAbhimanyu की मांग है कि बिहार के प्रतिभाशाली युवा सुशांत सिंह राजपूत जो बिहार के युवाओं के लिए संघर्ष के प्रेरणाश्रोत थे, उनके मौत की CBI जांच हो. मैंने अपने जन्मदिन पर होनेवाले हर आयोजन को निरस्त किया था और उनके परिवार के साथ दुख बांटने पहुंचा था. उनकी मौत से कुछ दिन पहले की उनकी स्पीच, जो उन्होंने IIT के मंच पर दी थी वो सुना था और जीवन को लेकर जो उत्साही भाषण उन्होनें दिया था. मुझे बहुत प्रेरणादायी लगा था.

अभिमन्यु ने आगे कहा कि ऐसे प्रतिभावान व्यक्ति के मौत की CBI जांच हो और दोषी को ऐसी सजा दी जाए कि फिर किसी और के साथ सुशांत सिंह जैसी घटना घटित ना हो.