लोकतंत्र के महापर्व का पहला चरण कल, बूथों के लिए रवाना हुई पोलिंग पार्टियां, 71 सीटों के लिए डाले जाएंगे वोट

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बिहार विधानसभा चुनाव का पहला चरण कल बुधवार को है. जिसको लेकर सारी तैयारियां पूरी कर ली गयी है. पोलिंग पार्टियां बूथों के लिए रवाना हो गयी. ईवीएम मशीन के साथ पुलिस बल और मतदानकर्मी अपने-अपने बूथों के लिए रवाना हो गए. पहले चरण में 71 सीटों पर वोट डाले जाएंगे. इसके लिए 31371 बूथ बनाए गए हैं.

पहले चरण के 71 में से 35 सीटों को नक्सल प्रभावित क्षेत्र माना गया है. निर्वाचन आयोग के अनुसार, पहले चरण के सभी बूथों पर अर्धसैनिक बलों की तैनाती होगी. नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में सुबह 7 बजे से शाम 4 बजे तक ही होगा, जबकि बाकी क्षेत्रों में वोटिंग टाइम शातम शाम 6 बजे तक रहेगी. वोटिंग के अंतिम घंटे में मानक से अधिक तापमान वाले तथा कोरोना पॉजिटिव वोटर मत डाल सकेंगे.



दोनों कैटेगरी के जिलों में निर्धारित समय के अंदर बूथ पर पहुंचने वाले वोटरों को मतदान से वंचित नहीं किया जाएगा. आयोग के अनुसार, नक्सल क्षेत्रों में फ्री एंड फेयर पोल के लिए अर्धसैनिक बल के जवान हेलीकॉप्टर से निगरानी कर रहे हैं.

इसके अलावा मुंगेर, जमुई, बांका, नवादा, रोहतास, औरंगाबाद आदि जिलों का हवाई मार्ग से गश्ती व सघन एरिया डोमेनेशन किया गया. इस कार्य में अब दो हेलीकॉप्टर लगाए गए हैं. एक सप्ताह से एक हेलीकॉप्टर ​से निगरानी की जा रही थी. बता दें कि बिहार में कुल 7.29 करोड़ मतदाता हैं, जबकि पहले चरण में लगभग 2.14 करोड़ मतदाता अपने मत का प्रयोग करेंगे.

ये क्षेत्र हैं नक्सल प्रभावित

कटोरिया, बेलहर, तारापुर, मुंगेर, जमालपुर, सूर्यगढ़ा, मसौढ़ी, पालीगंज, चैनपुर, चेनारी, सासाराम, काराकाट, गोह, ओबरा, नवीनगर, कुटुंबा, औरंगाबाद, रफीगंज, गुरुआ, कुर्था, अरवल, घोसी, जहानाबाद, मखदुमपुर, शेरघाटी, इमामगंज, बाराचट्टी, बोधगया, टिकारी, गोविंदपुर, रजौली, सिकंदरा, जमुई, झाझा व चकाई.