महामारी पर लोगों की जरूरतें भारी, लॉकडाउन में कई स्थानों पर उड़ रही सामाजिक दूरी की धज्जियां

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: एक तरफ कोरोना महामारी की वजह से प्रदेश त्राहिमाम कर रहा है. संक्रमण पर नियंत्रण के लिए सरकार भी नित नए आदेश जारी कर रही है. लेकिन लोगों की जिंदगी की जरूरतें कुछ ऐसी हावी हैं कि वह उन्हें पूरा करने में सारे नियम-कानून को ताक पर रख दे रहे हैं.

यह स्थिति शहरी क्षेत्र से लेकर ग्रामीण इलाकों में देखा जा रहा है. सामाजिक दूरी के मानदंड को तार-तार किए जाने का पहला मामला सीवान जिले के मैरवा से आया. यहां स्याही पुल के सोन नदी में करीब 50 से भी अधिक लोग समूह बनाकर मछली पकड़ने उतर गए. इस दौरान न तो सामाजिक दूरी पालन का कोई ख्याल रहा और न ही उन्होंने मास्क लगाना ही जरूरी समझा. इस लापरवाही पर इलाकाई दूसरे लोगों में दहशत बना हुआ है.

इधर, राजधानी पटना की सब्जी एवं फल मंडियों में भारी अव्यवस्था कायम हो गया है. सरकार द्वारा दिए गए 3 घंटे की लॉकडाउन छूट में ग्राहक और कारोबारियों की मंडियों में भीड़ लग जा रही है. लोग सामान खरीददारी के लिए लंबी कतारों में खड़े रह जा रहे हैं. इस दौरान न चाहते हुए भी सामाजिक दूरी का भारी उल्लंघन हो रहा है. हालांकि सब्जी और फल मंडियों में बनने वाली भीड़ पर नियंत्रण के लिए पुलिस स्तर पर टीम का गठन कर लगातार कार्रवाई का अंजाम दिया जा रहा है.