पटाखा फैक्ट्री में जलने से 22 लोगों की दर्दनाक मौत

लाइव सिटीज डेस्क (सयेद अरबाज हादी) : एमपी के बालाघाट के भाटन गांव स्थित पटाखा फैक्ट्री में अभी भी सन्नाटा पसरा हुआ है. लोग सदमे से उबर नहीं पा रहे हैं. इसमें आग लगने से 22 लोगों की मौत हो गयी है. वहीं कई लोग झुलस गये हैं. बता दें कि यह घटना बुधवार की शाम की है. लेकिन गुरुवार को भी लोग इससे अब तक उबर नहीं पाये हैं.

बताया जा रहा है कि फैक्ट्री के मालिक वारिस अहमद की पटाखा फैक्ट्री में अचानक आग लग गयी थी. हालांकि फैक्ट्री लाइसेंस वाली है. फैक्ट्री जिला मुख्यालय से करीब 10 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है. घटना की सूचना मिलते ही अग्निशामक की टीम मौके पर पहुंच गयी. उसने बचाव कार्य शुरू कर दिया है. अग्निशमन टीम ने काफी मशक्शत के बाद आग पर काबू पाया.

 

मौके पर पहुंचे बालाघाट के डीएम भरत यादव ने बताया कि मृतकों के शवों को निकाला जा रहा है और घायलों को इलाज के लिए अस्पताल भेजा गया है. मलवे में अभी 1 या 2 लोग और फंसे हो सकते हैं. डीएम ने कहा कि हादसा उस वक्त हुआ, जब मजदूर फैक्ट्री में काम कर रहे थे. हादसे के कारणों का अभी पता नहीं चल पाया है.

डीएम ने कहा कि हो सकता है कि किसी ने बीड़ी पीने के बाद वहां फेंक दी हो, जिससे यह बहुत बड़ा हादसा हो गया और 22 लोगों की दर्दनाक मौत हो गयी. यादव ने बताया कि आग लगने के कारणों की जांच की जा रही है. इधर सीएम शिवराज सिंह चौहान ने हादसे में मारे गए लोगों के परिवारों वालों को 2-2 लाख रुपये की आर्थिक मदद की बात कही है. वहीं मृतकों के घरवालों का रो रोकर हाल बुरा है.

फैक्ट्री में सन्नाटा पसरा हुआ है.