पीएम मोदी ने दुनिया के सबसे लंबे अटल टनल का किया उद्घाटन, कहा- 26 साल का काम 6 साल में पूरा किया

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: देश को आज दुनिया का सबसे लंबा टनल मिल गया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसका उद्घाटन किया है. इस मौके पर पीएम के साथ रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत कई नेता और सेना के अधिकारी मौजूद रहे. इस अटल टनल की लंबाई 9 किमी से अधिक है. यूं कहे तो यह दुनिया कि सबसे लंबी टनल है.

पहले घाटी छह महीने तक भारी बर्फबारी के कारण शेष हिस्से से कटी रहती थी. सुरंग को हिमालय के पीर पंजाल की पर्वत श्रृंखलाओं के बीच अत्याधुनिक विशिष्टताओं के साथ समुद्र तल से करीब तीन हजार मीटर की ऊंचाई पर बनाया गया है. अटल टनल में प्रति एक किलोमीटर पर हवा की गुणवत्ता की निगरानी होती है. सुरंग के भीतर प्रसारण की प्रणाली भी है और हर 250 मीटर पर किसी भी घटना का स्वचालित ढंग से पता लगाने वाली सीसीटीवी कैमरों की प्रणाली है. यह लाहौल और स्पीति वैली के लोगों के लिए किसी वरदान से कम नहीं है, जो भारी बर्फबारी के दौरान हर साल सर्दी में करीब छह महीने के लिए देश के शेष हिस्से से कट जाता था.



रोहतांग दर्रे के नीचे रणनीतिक महत्व की सुरंग बनाए जाने का फैसला पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के कार्यकाल के दौरान 3 जून 2000 को लिया गया था. अटल टनल हिमाचल प्रदेश में मनाली के पास समुद्रतल से 15 हजार फीट की ऊंचाई पर स्थित पहाड़ को भेदकर बनाई गई है.

पीएम मोदी ने अटल को किया याद :
अटल टनल के उद्घाटन के बाद पीएम मोदी ने कहा कि आज का दिन बहुत ऐतिहासिक है. आज सिर्फ अटल जी का ही सपना पूरा नहीं हुआ. बल्कि आज हिमाचल प्रदेश के करोड़ों लोगों का दशकों पुराना इंतजार खत्म हुआ है. मेरा बड़ा सौभाग्य है कि आज मुझे अटल टनल के लोकार्पण का अवसर मिला है.