चर्चित भोजपुरी गायक भरत शर्मा भेजे गए जेल

BHARAT-SHARMA

धनबाद : फर्जी कागजात के सहारे टीडीएस फाइल कर आयकर विभाग में रिटर्न दाखिल करने के दो विभिन्न मामलों में भोजपुरी के चर्चित गायक भरत शर्मा ने सोमवार को अदालत में सरेंडर किया. भरत के विरुद्ध अदालत ने 13 जनवरी 2016 को गिरफ्तारी का वारंट जारी किया था. वहीं उनके विरुद्ध कुर्की का इश्तेहार भी जारी किया जा चुका था. सोमवार को अदालत ने सरेंडर करने के बाद उन्हें जेल भेज दिया.

अवर न्यायाधीश एम के त्रिपाठी की अदालत में भरत शर्मा की ओर से जमानत अर्जी का संचालन अधिवक्ता इरशाद आलम ने किया. जिसका पुरजोर विरोध आयकर विभाग के अधिवक्ता मुख्तार अहमद ने किया. दोनों पक्षों को सुनने के बाद अदालत ने भरत को दोनों मामलों में जेल भेज दिया.

BHARAT-SHARMA

बता दें कि आयकर अधिकारी धनबाद शशि राजन ने 25 जनवरी, 05 व 28 जनवरी, 05 को क्रमश: सीओ 7/05 व सीओ केस संख्या 11/05 अदालत में दर्ज कराया था. इसके मुताबिक वित्तीय वर्ष 1998-99 और 1999-2000 के दौरान भरत ने फर्जी दस्तावेज के आधार पर 1 लाख 3 हजार रूपये का रिटर्न क्लेम किया था. 3 मार्च 2017 को अदालत ने आरोपी भरत शर्मा के खिलाफ सीआरपीसी की धारा 82 के तहत इश्तेहार निर्गत करने का आदेश दिया था.

आयकर विभाग ने आरोप लगाया था कि वित्त वर्ष 1999 से 2002 के बीच भरत शर्मा ने अपने आप को सुपर कैसेट इंडस्ट्रीज का गायक बताकर टीडीएस रिफंड का दावा किया था. जांच में उनके दस्तावेत जाली पाये जाने की बात कही गयी थी. उनकी पत्नी बेबी देवी के खिलाफ भी गलत तरीके से टीडीएस रिटर्न लेने के दो मामले दर्ज हुए थे. इनमें से एक मामले में बेबी को दो साल और दूसरे मामले में तीन साल की सजा हो चुकी है.

इसे भी पढ़ें –

मनोज तिवारी VS विजय गोयल, दबदबे को लेकर दोनों आमने-सामने

अगस्त से भारतीय विमानों में भी मिलगा नेट सर्फिंग का मज़ा

हत्या में बदला IAS अनुराग तिवारी की मौत का मामला