अमरनाथ हमला: गृह मंत्री राजनाथ सिंह के ट्वीट पर भड़के BJP नेता बलबीर पुंज

लाइव सिटीज डेस्क : जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग में सोमवार यानी 10 जुलाई को आतंकवादियों ने गुजरात के अमरनाथ यात्रियों की बस पर हमला कर दिया था. इसमें सात श्रद्धालुओं की मौत हो गई. जबकि 32 अन्य घायल हो गए हैं. मरने वालों में छह महिलाएं भी शामिल हैं. घायलों में से कई की हालत नाजुक बनी हुई है. उन्हें अनंतनाग और श्रीनगर के अस्पतालों में भर्ती कराया गया है. अमरनाथ तीर्थयात्रियों पर हुए इस आतंकवादी हमले की पूरे देश ने एक स्वर में निंदा की है और इसे बेहद शमर्नाक तथा कायरतापूर्ण कृत्य करार दिया है.


आतंकी हमले के बाद सोशल मीडिया पर कई लोगों ने पूरे कश्मीर के लोगों पर ही सवाल उठा दिए. ऐसे लोगों को केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने जोरदार तरीके से जवाब दिया. राजनाथ सिंह ने अमरनाथ तीर्थयात्रियों पर हुए आतंकी हमले की कश्मीर के लोगों द्वारा खुलकर निंदा किए जाने की सराहना की है.

राजनाथ सिंह ने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘कश्मीर के लोगों ने अमरनाथ यात्रियों पर आतंकी हमले की कड़ी निंदा की है, ये दर्शाता है कि अभी भी कश्मीरियत बहुत हद तक जिंदा है.’

राजनाथ सिंह के इस ट्वीट की सोशल मीडिया पर जमकर सराहना हो रही है. हालांकि, राजनाथ का यह ट्वीट भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के ही कुछ नेताओं को रास नहीं आया. इस ट्वीट पर गृह मंत्री की आलोचना करते हुए बीजेपी के पूर्व सांसद बलबीर पुंज ने तीखी प्रतिक्रियाएं दी है.

बलबीर पुंज ने लिखा, ‘गृहमंत्री का ये बयान फिजूल का है, कश्मीरी लोग ऐसा माहौल बना देते हैं, ताकि आतंकी इस तरह की कायरतापूर्ण हरकत को अंजाम दे सकें.’

बलबीर पुंज के अलावा ट्रैवलिंग वेबसाइट मेक माय ट्रिप की एडिटर शुचि सिंह कालरा को भी राजनाथ सिंह का यह संदेश पसंद नहीं आया. उन्होंने एक विवादित ट्वीट कर दिया. शुचि सिंह कालरा ने गृहमंत्री को निशाने पर लेते हुए ट्वीट कर कहा फिलहाल ‘कश्मीरियत’ की किसी को परवाह नहीं है और उनका (राजनाथ) काम ‘दिलासा’ देना नहीं है. कालरा ने राजनाथ को सलाह दी कि उन्हें यात्रियों को निशाना बनाने वाले आतंकियों को सजा दिलवाने पर फोकस करना चाहिए.

कालरा के विवादित ट्वीट पर खुद गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने मोर्चा संभालते हुए ऐसा जवाब दिया कि जिसे पढ़कर उन्होंने फौरन अपना ट्वीट डिलीट कर दिया. कालरा को दिए जवाब में राजनाथ ने ट्वीट किया, ‘निश्चित तौर पर मैं ऐसा करूंगा. निश्चित तौर पर देश के हर हिस्से में शांति एवं सौहार्द स्थापित करना मेरी जिम्मेदारी है. लेकिन सभी कश्मीरी आतंकवादी नहीं हैं.’

राजनाथ सिंह द्वारा कालरा को दिया गया यह जवाब सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है.