बोलीं ममता बनर्जी – मैं मोबाइल से आधार लिंक नहीं करवाउंगी, चाहें नंबर बंद हो जाए

ममता बनर्जी (फाइल फोटो)

लाइव सिटीज डेस्क: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार को कड़े तेवर दिखा दिए हैं. नोटबंदी और खासतौर पर आधार कार्ड लिंक कराने को लेकर ममता ने मोदी सरकार को आड़े हाथ लिया है. ममता ने कहा कि वो अपना मोबाइल नंबर, आधार कार्ड से लिंक नहीं कराएंगी. उन्होंने कहा कि सरकार अगर उनका फोन डिस्कनेक्ट करेगी तो कर दे.

ममता ने कहा कि सरकार चाहे उनका फोन नंबर बंद करा दे लेकिन वो आधार से लिंक नहीं कराएंगी. इसके अलावा नोटबंदी के एक साल को काला दिन बताते हुए उन्होंने ऐलान किया कि तृणमूल कांग्रेस 8 नवंबर को इसके विरोध में काले झंडे लेकर रैलियां करेगी. ममता बनर्जी शुरू से नोटबंदी के विरोध में थीं. बता दें कि टेलीकॉम डिपार्टमेंट (DoT) ने कहा है कि 23 मार्च तक सभी लोग अपने मोबाइल नंबरों को आधार से लिंक करा लें.

टेलीकॉम डिपार्टमेंट ने मोबाइल नंबर को आधार से लिंक कराने को लेकर एक नोटिफिकेशन जारी किया था, जिसे अदालत में चुनौती दी गई है. तहसीन पूनावाला ने पिटीशन फाइल कर डिपार्टमेंट के 23 मार्च वाले नोटिफिकेशन पर सवाल उठाए है. पिटीशनर ने DoT के नोटिफिकेशन को असंवैधानिक करार दिया है. पिछले महीने सामने आई एक रिपोर्ट में कहा गया था कि जो सिम कार्ड्स आधार से लिंक नहीं होंगे, उन्हें फरवरी 2018 के बाद डिएक्टीवेट किया जा सकता है.

SC ने सरकार को क्या सलाह दी थी?

इस साल 6 फरवरी को सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को निर्देश दिया था कि वह 100 करोड़ से ज्यादा लोगों (भावी मोबाइल फोन कंज्यूमर्स) के पहचान की जांच के लिए एक मैकेनिज्म सालभर के अंदर तैयार करे. सुप्रीम कोर्ट ने लोक नीति फाउंडेशन की पिटीशन पर सुनवाई करते हुए यह सलाह भी दी थी कि कुल मोबाइल यूजर्स के 90% मौजूदा प्री-पेड मोबाइल यूजर्स से कहा जा सकता है कि वे रिचार्ज के वक्त या नए सिम कार्ड लेते वक्त अपनी पहचान से जुड़ी जानकारी दें.