जादू की झप्पी ने बचाई जुड़वां बच्चों की जान, मौत को दे दी मात

लाइव सिटीज डेस्क : जादू की झप्पी में बड़ा असर होता है. ये न सिर्फ आपकी टेंशन को कम करता है, बल्कि आपकी फ्रेंडशिप लेवल को भी बढ़ा देता है. लेकिन हाल ही में सामने आए केस ने प्रूव कर दिया कि जादू की झप्पी आपकी जान भी बचा सकती है. जी हां, ये वाकया लंदन का है. जहां दो बच्चों की गर्भ में जान सिर्फ इसलिए बच गई, क्योंकि उन दोनों ने एक दूसरे को कसकर पकड़ रखा था.

 

लंदन की रहने वाली 30 साल की विकी प्लोराइट पेशे से नर्स हैं. विकी प्रेग्नेंट थीं और अपने फियांसे के साथ इसका जश्न भी मना रहीं थीं. लेकिन 10वें हफ्ते में ही उन्हें पता चल गया कि उनके पेट में जुड़वां मोनोअ​मनिओटिक बच्चे हैं. ये चिन्ता वाली बात थी. ऐसे मामलों में दोनों बच्चे एक ही झिल्ली में होते हैं. सफल डिलीवरी की दर महज 50 फीसदी ही होती है.

हालांकि दोनों बच्चों की गर्भनाल अलग थी, लेकिन फिर भी दोनों भारी रिस्क में थे. ये बहुत ही दुर्लभ केस था. 60,000 में से एक ही जुड़वां बच्चों के मामले में ऐसा हो सकता था. लेकिन सोनोग्राफर ने जब विकी के गर्भ की फोटो ली तो नतीजा शॉकिंग था. दोनों भ्रूण ने आपस में एक—दूसरे को जोर से पकड़ रखा था. इसी वजह से उनकी गर्भनाल भी उनसे उलझ नहीं रही थी. ये वाकई एक चमत्कार ही था.

विकी प्लोराइट ने लगातार 32 हफ्तों तक अपनी जांच करवाना जारी रखा. इसके बाद विकी ने दो स्वस्थ बच्चों को जन्म दिया है. दोनों ही लड़के हैं. इनमें से एक का वजन 3 पौंड 14 औंस है जबकि दूसरे का वजन 3 पौंड 14 औंस है. दोनों बच्चों की फोटो इन दिनों सोशल मीडिया पर खूब तहलका मचा रही हैं.