पिस्टल सटा दूल्हे को उठा ले गयी प्रेमिका, देखते रहे गये बराती-सराती…

bride

लाइव सिटीज डेस्क : ‘प्यार हमसे और शादी किसी और से यह कतई बर्दाश्त नहीं…’ फिर क्या था प्रेमिका ने पिस्टल को कनपटी पर सटा कर जनबासा से दूल्हे को उठाया और फुर्र हो गयी. यह वाकया है बुंदेलखंड के हमीरपुर का. दूल्हा उत्तर प्रदेश के बांदा का है. पूरी घटना को देख कर बराती ही नहीं, सराती की भी सिट्टी-पिट्टी गुम हो गयी. मजबूरी में बिना दुल्हन के ही बरात लौट गयी. फिलहाल शादी भी टल गयी है. दुल्हन का रो-रोकर बुरा हाल है. उधर पुलिस के अनुसार तीन गाड़ियों के साथ आयी युवती कौन है और उसके दूल्हे से कैसे संबंध थे इस बारे में जांच की जा रही है.

जानकारी के अनुसार बांदा जिले के मटौध थाना क्षेत्र स्थित मोहनपुरवा गांव निवासी रामहेत यादव के पुत्र अशोक यादव की सोमवार की रात शादी होनेवाली थी. वह शहर के डॉ. शरदचंद्र चतुर्वेदी के नर्सिंंग होम में काम करता था. उसी नर्सिंग होम में एक लड़की भी काम करती थी. उस लड़की से अशोक का प्रेम प्रसंग शुरू हो गया. अशोक ने उससे शादी करने की बात कही. बाद में अशोक मुकर गया. पिता ने अशोक का ब्याह हमीरपुर के भवानी गांव के राम सजीवन की पुत्री के संग तय कर दिया.

bride

अशोक की बरात नियत समय पर लड़की वाले के गांव पहुंच गई. शाम में लड़की वालों ने वर पक्ष का जोरदार स्वागत किया. इसके बाद वरमाला कार्यक्रम हुआ. बराती खाना खाकर आराम कर रहे थे और जनबासा पर आधी रात में चढ़ावा चढ़ाने का रस्म चल रहा था. दूल्हा अशोक अपने दोस्तों व संबंधियों के साथ बैठा था. इसी बीच अशोक की प्रेमिका स्कार्पियो व अन्य दो गाड़ियों से कुछ लड़कों के साथ पहुंची. गाड़ी खोलकर फिल्मी अंदाज में लड़की बाहर निकली और दूल्हा बने अशोक के सिर पर पिस्टल सटा दी. बराती व सराती ​कुछ समझ पाते, तब तक लड़के को जबर्दस्ती उठा कर प्रेमिका चलते बनी. जाते-जाते लड़की ने कहा – ‘प्यार हमसे किया और शादी किसी दूसरे से… यह बर्दाश्त नहीं.’

इसे भी पढ़ें : शोध : पिता बनने की है चाह तो जल्दी सोने की आदत डालें 
आपके लिए शुभ हैं ये टोटके, सुखद होगी यात्रा…