जब हनीप्रीत को देखने उमड़ पड़ी लोगों की भीड़, प्रशासन को करना पड़ा ये…

honey-preet

लाइव सिटीज डेस्क : बलात्कारी बाबा राम रहीम की मुहंबोली बेटी हनीप्रीत इन दिनों चर्चाओं का विषय बनती दिख रही है. पहले बाबा राम रहीम और अब उनकी बेटी हनीप्रीत आखिरकार जेल के सलाखों के बीच हैं. कहते है की जो जैसा कर्म करता है, उसको वैसा ही फल मिलता है. ठीक ऐसा ही हुआ हनीप्रीत के साथ भी.

जेल में बंद गुरमीत राम रहीम की मुंह बोली बेटी हनीप्रीत व अन्य महिला सुखदीप कौर को आज हरियाणा पुलिस जांच के लिये बठिंडा लेकर पहुंची. सुखदीप कौर व हनीप्रीत के मुंह चुनरी से ढके हुये थे. उनके साथ बड़ी संख्या में पंजाब पुलिस भी थी. पुलिस जब इन दोनों को लेकर स्थानीय गोनियाना रोड आर्य नगर गली नंबर-2 के पास पहुंची तो वहां मीडिया पहले से ही तैयार था. हनीप्रीत के बठिंडा पहुंचने की खबर मिलते ही हजारों की संख्या में लोग वहां एकत्रित होने शुरू हो गये.

जिससे यातायात जाम हो गया. वहीं बहुत से डेरा सच्चा प्रेमी भी वहां पहुंचे हुए थे. आर्य नगर की गली नंबर-2 में सुखदीप कौर के ससुरालवालों की पुरानी बल्लुआना फ्लोर मिल है. यहां अब सिर्फ कुछ सामान ही पड़ा रहता है. इसकी पहली मंजिल पर हिंद कैम. कार्पोरेशन का बोर्ड लगा है. हरियाणा पुलिस इस बात की जांच कर रही है कि 25 अगस्त के बाद हनीप्रीत कहां-कहां व किस-किस के पास रही. किन लोगों ने उसे छिपने में मदद की.

न मैं हनीप्रीत से मिला,  न उसने मदद मांगी : हरमंदर जस्सी

लुक आउट नोटिस जारी होने के बाद न तो मैं हनीप्रीत से मिला अौर न ही कभी हनीप्रीत ने उनसे कोई मदद मांगी है. यह बात पूर्व मंत्री व कांग्रेसी नेता हरमंदर सिंह जस्सी ने आज फोन पर सम्पर्क करने पर कही. वह संत गुरमीत सिंह के समधी भी हैं. उन्होंने कहा कि कुछ लोग उनके बारे में बिना वजह अफवाहें फैला रहे हैं. हालांकि जस्सी ने कहा कि हनीप्रीत उसकी बेटी जैसी हैं. गुरुसर मोड़िया (राजस्थान)में हरियाणा पुलिस के छापे दौरान उनके सुरक्षा कर्मचारियों के वहां होने व हनीप्रीत को वहां से फरार होने में उसकी मदद करने की अफवाहों बारे उन्होंने कहा कि यह सब झूठी बातें हैं. उन्होंने कहा कि गुरुसर मोड़िया में उसकी बेटी के ससुराल हैं व वह वहां उनसे मिलने गये थे.

पुलिस ने नहीं करने दी बात

पंजाब व हरियाणा के किसी भी पुलिस अधिकारी ने पत्रकारों से बात तक नहीं की तथा न ही हनीप्रीत व सुखदीप कौर से बात करने दी बल्कि दोनों राज्यों की पुलिस ने उन्हें कड़े घेरे में ही लिये रखा. पुलिस इन दोनों महिलायों को कड़े घेरे में ही उक्त मकान में लेकर दाखिल हुई. पुलिस यहां लगभग दोपहर 1. 30 बजे पहुंची व लगभग सवा घंटा मकान के अंदर रहने के बाद बाहर निकली. यहां दोनों को हरियाणा पुलिस की गाड़ी में बिठा लिया गया. वहां से उन्हें किसी अज्ञात स्थान पर ले जाया गया. उल्लेखनीय है कि सुखदीप कौर पत्नी इकबाल सिंह के ससुराल बठिंडा जिले के गांव बल्लुआना में हैं तथा यह गांव बठिंडा-मलोट रोड पर स्थित है. सूत्रों अनुसार चाहे इकबाल सिंह व उसका परिवार अधिकतर समय डेरा सिरसा में ही गुजारता है परन्तु उनकी जायदाद गांव बल्लुआना के अतिरिक्त बठिंडा में भी है.

यह भी पढ़े – प्रद्युम्न हत्याकांडः CBSE ने सुप्रीम कोर्ट में बताई हत्या की वजह, किया बड़ा खुलासा
व्यापारियों को बड़ी राहत, अब हर महीने आपको नहीं भरना होगा GST !
RING और EARRINGS की सबसे लेटेस्ट रेंज लीजिए चांद​ बिहारी ज्वैलर्स में, प्राइस 8000 से शुरू
PUJA का सबसे HOT OFFER, यहां कुछ भी खरीदें, मुफ्त में मिलेगा GOLD COIN
अभी फैशन में है Indo-Western लुक की जूलरी, नया कलेक्शन लाए हैं चांद बिहारी ज्वैलर्स
मौका है : AIIMS के पास 6 लाख में मिलेगा प्लॉट, घर बनाने को PM से 2.67 लाख मिलेगी ​सब्सिडी

(लाइव सिटीज मीडिया के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)