भूपेन हजारिका के नाम पर बना देश का सबसे लंबा पुल

modi

लाइव सिटीज डेस्क : केंद्र की मोदी सरकार के तीन साल पूरा होने पर देश को सबसे लंबा पुल का तोहफा मिला. यह तोहफा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिया है. इस नये पुल का उद्घाटन शुक्रवार को प्रधानमंत्री मोदी ने असम में किया.

असम में ब्रह्मपुत्र नदी पर देश के सबसे बड़ा ढोला-सादिया पुल महापुरुष भूपेन हजारिका के नाम से जाना जायेगा. पीएम मोदी ने असम के तिनसुकिया में लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि लोग पांच दशक से इस पुल के शुरू होने का लोग इंतजार कर रहे थे. मोदी ने कहा कि असम और अरुणाचल प्रदेश के लिए आज उत्सव का दिन है.

modi

प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछले पांच दशक से आप जिसका इंतजार कर रहे थे, वह पुल आपको मिल गया है. इस पुल के बन जाने से समय और खर्च दोनों बचेंगे. असम व अरुणाचल के बीच की दूरी काफी कम हो गयी है. इसके कारण केवल डीजल से डेली 10 लाख रुपये की बचत होगी. मोदी ने देश के इस लंबे पुल का नाम भूपेन हजारिका के नाम करने की घोषणा की.

नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि अगर देश में अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार होती तो देश को यह उपहार पिछले 10 साल पहले ही मिल जाता. कार्यक्रम में असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल और केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी भी मौजूद हैं.

इसमें खास बात रही कि पीएम मोदी प्रोटोकॉल को तोड़ कर पुल पर पैदल ही चल दिये. थोड़ी देर तक इधर उधर टहले भी.