पाकिस्तानी सेना ने दो जवानों की हत्या की, शवों को किया क्षत-विक्षत

indian army

लाइव सिटीज डेस्क : पाकिस्तान ने सोमवार को एक बार फिर से एलओसी पर सीजफायर का उल्लंघन किया है. इस बार यह जम्मू—कश्मीर के पुंछ जिले के मेंढर सेक्टर में किया गया है. इस फायरिंग में सेना और बीएसएफ के एक—एक जवान शहीद हो गए हैं. एक बीएसएफ जवान को गंभीर चोटें आईं हैं. शहीदों में सेना का जेसीओ और बीएसएफ का हेड कांस्टेबल शामिल हैं. शहीद जवानों के शवों के साथ बर्बरता भी की गई है. सेना के मुताबिक पाकिस्तानी सेना ने दो भारतीय जवानों के शवों को नुकसान पहुंचाया है. पाकिस्तानी सेना को उचित जवाब दिया जाएगा.


सूत्रों ने बताया कि दोनों जवान पाकिस्तानी रॉकेट लांन्चर और स्वचालित बंदूकों से उस समय घायल हुए जब वे सीमावर्ती पोस्ट की रक्षा कर रहे थे. पाकिस्तान की तरफ से ये फायरिंग उस समय हुई है, जब रविवार को ही पाक आर्मी चीफ कमर जावेद बाजवा ने एलओसी का दौरा किया. एलओसी पर पाकिस्तान आर्मी चीफ बाजवा की गश्त किसी बड़ी साजिश का इशारा लगती है. सरहद पर हाजी पीर सेक्टर के इलाकों में बाजवा का दौरा इसलिए खतरे की घंटी बजाता है, क्योंकि अपने सैनिकों से मिलने के बाद बाजवा ने भारत के खिलाफ जहर उगलता बयान दिया. पाकिस्तान के आर्मी चीफ ने कश्मीरियों की आजादी का मुद्दा उठाया और आतंकवादियों को राजनीतिक आंदोलनकारी करार दिया. बाजवा ने कहा कि पाकिस्तान कश्मीरियों के आत्म निर्णय के अधिकार के लिए किए जा रहे कार्य को हमेशा समर्थन देता रहेगा.

पाक आर्मी चीफ का नियंत्रण रेखा पर ये चौथा दौरा है. इससे पहले बाजवा ने मार्च में भी एलओसी का दौरा किया था. पाकिस्तान के फौजी आलाकमान का यूं बार-बार सरहद पर पहुंचना और कश्मीर में बढ़ती हिंसा को देखते हुए इस बात का अंदेशा बढ़ता है कि पाकिस्तान एक बार फिर किसी बड़ी साजिश की तैयारी कर रहा है, जिसमें कश्मीर में जमे आतंकियों के साथ ही सरहद पार से आतंकी और खुद पाकिस्तानी फौज भी शामिल हो सकती है. पाक आर्मी चीफ के एलओसी दौरे के बाद भारतीय सेना के साथ ही खुफिया एजेंसियां भी अलर्ट हो गई हैं.

indian army

इस बीच दिल्ली में गृह मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में उच्च स्तरीय मीटिंग चल रही है. जम्मू और कश्मीर के सुरक्षा हालात और छत्तीसगढ़ के सुकमा में हुए नक्सली हमले को लेकर हो रही इस अहम बैठक में गृह सचिव, CRPF के डीजी, आईबी चीफ और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल हिस्सा ले रहे हैं.

क्या है बार्डर एक्शन टीम
बार्डर एक्शन टीम या बैट पाकिस्तान की सीमाओं की सुरक्षा की जिम्मेदारी संभालती है. इस टीम के पाकिस्तान के सबसे निर्मम और खूंखार सिपाहियों की तैनाती की जाती है. यह टीम हमेशा सीमा के आसपास ही टहलती रहती है. गश्त के दौरान भटक जाने वाले सिपाहियों पर इनकी खास नजर होती है. इन्हें सिपाहियों की नियम तोड़कर हत्या और फिर शव को क्षत—विक्षत करने के लिए जाना जाता है. कुछ महीनों पहले शहीद हेमराज की बैट ने हत्या की थी और उसका सिर काटकर साथ ले गए थे.

यह भी पढ़ें – साथ गए थे हाई प्रोफाइल महिला के फ्लैट में, फिर कैद हो गए जासूसी कैमरों में