दबंगई : मंत्री के गार्ड की पिस्टल चिपक गयी मशीन में, संस्थान को 52 लाख का झटका

मशीन में चिपक गयी थी पिस्टल, फोटो हो रहा वायरल

लाइव सिटीज डेस्क : यूपी सरकार के मंत्री के गनर ने की ‘दबंगई’ और मेडिकल संस्थान को 52 लाख का झटका लग गया. वहां की एमआरआई मशीन खराब हो गयी. अब उस मशीन को ठीक करने में कम से कम 10 दिन का समय लगेगा. इससे संस्थान के साथ ही मरीजों की भी परेशानी बढ़ गयी है. हालांकि इसके लिए गनर को सस्पेंड कर दिया गया है. वहीं मशीन में चिपकी पिस्टल सोशल मीडिया पर भी काफी वायरल हो रहा है.



मामला लखनऊ के डॉ राम मनोहर लोहिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज का है. बताया जाता है योगी सरकार में शामिल खादी व ग्रामोद्योग मंत्री सत्यदेव सिंह पचौरी अपना हेल्थ जांच कराने संस्थान पहुंचे थे. उन्हें एमआरआई जांच करानी थी. उनके साथ उनका गार्ड मुकेश शर्मा भी वहां पहुंचा था. जब संस्थान के कंट्रोल रूम में ले जाया गया तो गार्ड भी उसमें जबर्दस्ती घुस गया. हालांकि गार्ड को काफी रोका गया, लेकिन उसने अपनी दबंगई दिखाते हुए किसी की बात नहीं मानी.

मशीन में चिपक गयी थी पिस्टल, फोटो हो रहा वायरल

सूत्रों की मानें तो मंत्री के गार्ड मुकेश के कंट्रोल रूम में घुसते ही हंगामा मच गया. गार्ड की कमर में लगी पिस्टल मैगनेट पावर से खिंच कर मशीन में जा चिपकी. मैग्नेटिक फील्ड की वजह से ऐसा हुआ. गनीमत रही कि कोई अनहोनी नहीं अुई. दरअसल पिस्टल लोडेड थी. ऐसे में गोली चल सकती थी. ऐसा होने पर हादसा हो सकता था. संस्थान मैनेजमेंट ने इंजीनियरों को बुलाया. जांच में पता चला कि इसमें बड़ी खराबी आ गयी है. इंजीनियरों ने बताया कि इसे पूरी तरह ठीक होने में लगभग 52 लाख खर्च आयेंगे और मिनिमम 10 दिन लगेंगे.

बहरहाल, इस घटना के बाद से मरीजों की परेशानी बढ़ गयी है. वहीं मेडिकल संस्थान को भी लाखों रुपये का घाटा हुआ है. अस्पताल सूत्रों के अनुसार प्रतिदिन अस्पताल को एमआरई जाचं से लगभग एक लाख रुपये की इनकम थी. वहीं अब मशीन को ठीक कराने में भी अलग से 52 लाख खर्च होंगे.

वहीं मामले को गंभीरता से लेते हुए दोषी गार्ड मुकेश शर्मा को सस्पेंड कर दिया गया है.