साल का सबसे बड़ा ऐलान : अब ‘रजनीकांत’ में आ गया ‘पॉलिटिक्स’

लाइव सिटीज डेस्क: वैसे तो रजनीकांत फ़िल्मी दुनिया के बादशाह हैं. असल जिंदगी में भी रजनीकांत ने बहुत नाम कमाया है. पर चौंकने वाली बात तो ये है कि रजनीकांत ने पॉलिटिक्स ज्वाइन करने का बड़ा फैसला कर चुके हैं. इस बात की घोषणा उन्होंने आज चेन्नई में की है. इस हफ्ते के शुरू में अपने फैन्स को संबोधित करते हुए रजनीकांत ने चेन्नै में कहा था कि वह दिसंबर के आखिरी दिन अपने राजनीतिक कदम का ऐलान करेंगे.

चेन्नई में अपने संबोधन के दौरान रजनीकांत ने कहा कि वे अगला विधानसभा चुनाव लड़ेंगे. उन्होंने कहा कि वे नई पार्टी बनाएंगे और चेन्नई की सभी 234 सीटों से अपने उम्मीदवार उतारेंगे. उनके इस ऐलान के बाद ही समर्थकों में जबरदस्त उत्साह देखा गया और लोग झूमने लगे. रजनीकांत ने कहा कि इन दिनों लोकतंत्र बुरी स्थिति में है और सभी राज्य तमिलनाडु का मजाक उड़ा रहे हैं. उन्होंने कहा कि अगर मैं इस बात का फैसला नहीं करता तो अपने आप को दोषी मानता.



रजनीकांत ने कहा कि लोकतंत्र के नाम पर नेता हमें हमारी ही जमीन पर हमारे ही पैसे लूट रहे हैं. हमें इसे जड़ से बदलने की जरूरत है. अपनी पार्टी के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा कि सत्य, कार्य और विकास उनकी पार्टी के तीन मंत्र होंगे. रजनीकांत के इस फैसले पर बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने मजाक उड़ाते हुए कहा, ‘उन्होंने केवल राजनीति में उतरने का फैसला किया है, उनके पास कोई जानकारी या दस्तावेज नहीं है, वह अनपढ़ है. केवल मीडिया ने उन्हें चढ़ाया हुआ है, तमिलनाडु के लोग समझदार हैं.’

इससे पहले  इस बात का ऐलान करने के लिए रजनीकांत तमिलनाडु स्थित अपने घर से निकलने के दौरान कहा कि  वे वे चेन्नई के श्री राघवेंद्र कल्याना मंदनपम पहुंच कर ही राजनीति में आने या नहीं आने का ऐलान करेंगे. इससे पहले रजनीकांत ने कहा था, ‘मेरे राजनीति में आने को लेकर अटकलें लगाई जा रही हैं. मैं अपना निर्णय 31 दिसंबर को बताउंगा. मैं राजनीति में नया नहीं हूं. मुझे पता है कि राजनीति में आने के बाद क्या नुकसान है, यही कारण है कि मैं अनिच्छुक हूं.’

उन्होंने कहा था, ‘हमें राजनीति में आने के लिए विवेक और रणनीति दोनों की जरूरत होती है. यदि आपने युद्ध के मैदान में कदम रखा तो आपको जीतना होगा. युद्ध मतलब चुनाव. मैं आज भी आभारी हूं, जब जयललिता मुझसे मिलने मेरे घर आई थीं.’ राजनीति में आने की खबरों को लेकर उनकी पत्नी ने कहा कि यह उनका व्यक्तिगत फैसला है और वह अपने पति के किसी भी फैसले में उनका साथ देंगी.