आधार-मोबाइल लिंक : ममता के बाद अब सुब्रमण्यम स्वामी ने फूंका विरोधी बिगुल

लाइव सिटीज डेस्क : आधार की अनिवार्यता को लेकर सरकार के खिलाफ विरोध का सुर थमने का नाम नहीं ले रहा. ममता बनर्जी के बाद अब भाजपा के वरिष्ठ नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने भी विरोधी बिगुल फूंक दिया है. इस मामले में स्वामी ने कर्इ सवाल उठाते हुए उसकी अनिवार्यता को सुरक्षा के लिए खतरा भी करार दिया है.

स्वामी ने ट्वीट करते हुए मोबाइल आधार लिंकिंग को राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा करार दिया है. उन्होंने यह भी कहा है कि इस मामले को लेकर वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र भी लिखेंगे. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा है, मैं पीएम मोदी को पत्र लिखूंगा जिसमें विस्तार से बताऊंगा कि आधार अनिवार्य किया जाना किस तरह देश की सुरक्षा के लिए खतरनाक है. मुझे यकीन है कि सुप्रीम कोर्ट इस पर रोक लगाएगी.

बता दें कि आधार अनिवार्य किए जाने के बाद ममत बनर्जी ने इसका कड़ा विरोध किया था और कहा था कि वो अपना नंबर आधार से लिंक नहीं करवाएंगी, फिर भले ही मोबाइल कंपनी उनका कनेक्शन काट दे. हालांकि, कोर्ट ने उन्हें फटकार लगाते हुए कहा था कि संसद द्वारा पारित कानून का कोई राज्य इस तरह विरोध नहीं कर सकता. ममता अपनी बात एक व्यक्ति के रूप में कह सकती हैं.

बता दें कि सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ लेने के लिए आधार की अनिवार्यता का मामला सुप्रीम कोर्ट में हैं. कोर्ट ने मामले की सुनवाई के लिए संविधान पीठ गठित करने का फैसला किया है. सुप्रीम कोर्ट ने मोबाइल नंबर के साथ आधार को लिंक करने को लेकर केंद्र सरकार और मोबाइल कंपनियों को नोटिस जारी किया है.

आधार अनिवार्यता के खिलाफ कोर्ट गये याचिकाकर्ताओं ने यह भी दलील दी है कि आधार को बैंक खातों और मोबाइल से जोड़ना गैर-कानूनी तथा असंवैधानिक है. याचिकाओं में परीक्षाओं में शामिल होने वाले छात्रों के लिए आधार अनिवार्य करने के सीबीएसई के कदम पर भी आपत्ति की गयी है.