400 से ज्यादा बेनामी सौदों को पहचान चुका है IT विभाग, अबतक 600 करोड़ की कुर्की

लाइव सिटीज डेस्क : इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने देशभर में अबतक 400 से ज्यादा बेनामी सौदों की पहचान कर ली है. बेनामी कानून के तहत कुल 240 से अधिक मामलों में 600 करोड़ रुपये मूल्य की संपत्तियों की कुर्की भी की जा चुकी है. डिपार्टमेंट ने बुधवार को यह जानकारी देते हुए बताया है कि 40 मामलों में कोलकाता, मुंबई, दिल्ली, गुजरात, राजस्थान और मध्य प्रदेश से 530 करोड़ रुपये से ज्यादा कीमत की अचल संपत्ति कुर्क हुई है.

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने कहा है कि नए बेनामी कानून को अच्छी तरह लागू करने के लिए उसने पिछले सप्ताह देशभर में 24 बेनामी निषेध इकाइयां (BPU) स्थापित की हैं ताकि इस कानून से बेहतर रिजल्ट मिल सके. नए बेनामी लेन-देन (निषेध) संशोधन कानून, 2016 के तहत हो रही इन कार्रवाइयों में अधिकतम 7 साल जेल की सजा और जुर्माने का प्रावधान किया गया है. डिपार्टमेंट ने बताया है कि पिछले एक महीने में 10 वरिष्ठ सरकारी अधिकारियों के यहां भी तलाशी अभियान चलाया गया है.

बता दें कि इन कार्रवाइयों से बिहार में भी हड़कंप मचा हुआ है. बुधवार को ही इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद की बेटी राज्यसभा सांसद मीसा भारती और उनके पति शैलेश कुमार को भी नोटिस जारी किया है. उन्हें आगामी 6-7 जून को पूछताछ के लिए बुलाया गया है. मीसा भारती पर लगभग 600 करोड़ के बेनामी संपत्ति रखने का आरोप है.

इससे पहले मीसा भारती की कंपनी के चार्टर्ड अकाउंटेंट राजेश अग्रवाल को प्रवर्तन निदेशालय ने गिरफ्तार किया था. आठ हजार करोड़ के घोटाले के मामले में राजेश अग्रवाल की गिरफ्तारी हुई थी. लालू यादव की बेटी मीसा यादव को धन मुहैया कराने का भी राजेश पर आरोप है. मीसा की कंपनी मिशेल पैकर्स एंड प्रिटर्स को एंट्री भी दिलाई थी. दरअसल, इस मामले में कई बड़े लोगों को कमीशन लेकर शैल कंपनियों के जरिए एंट्री दिलाई गई थी.

इसे भी पढ़ें –
मीसा भारती और उनके पति को IT का नोटिस, जून में होगी पूछताछ
BSSC : SIT ने IAS सुधीर समेत 8 के खिलाफ दायर की चार्जशीट
वह सब कुछ, जो आप जानना चाहते हैं लालू प्रसाद से जुड़े IT रेड के बारे में