यूपी में मायावती ने किया ऐलान, बोलीं – छोड़ दूंगी हिन्दू धर्म…!

बसपा सुप्रीमो, मायावती, बहुजन समाज पार्टी, परिवारवाद, उत्तर प्रदेश, दलित नेता, बहन मायावती, आनंद कुमार, UP politics, Mayawati, BSP

लाइव सिटीज डेस्क: बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने यूपी के आजमगढ़ में सभा को संबोधित करते हुए बड़ा बयान दिया है. मायावती ने हिंदू धर्म छोड़ने की चेतावनी देते हुए कहा कि अगर हिंदू धर्माचार्य नहीं सुधरे, तो उचित समय पर वह भी बाबा साहब भीमराव आंबेडकर की तरह बौद्ध धर्म अपना सकती हैं. मंगलवार को आजमगढ़ में एक कार्यकर्ता सम्मेलन के दौरान मायावती ने यह चेतावनी दी.

कार्यकर्ता सम्मेलन में बाबा साहब भीम राव आंबेडकर का जिक्र करते हुए मायावती ने कहा, ‘बाबा साहब ने 1935 में कहा कि मैं हिंदू पैदा हुआ यह मेरे बस की बात नहीं, लेकिन मैं इस धर्म में मरूंगा नहीं. बाबा साहब ने हिंदू धर्म में छुआछूत के चलते बौद्ध धर्म अपनाया. इस घटना के बाद भी हिन्दू धर्माचार्य अभी तक नहीं सुधरे हैं. इसके चलते आने वाले समय में मैं भी बौद्ध धर्म अपना सकती हूं.’

‘देश में है भय का माहौल’

बीएसपी प्रमुख ने कहा कि आज देश में धर्म के नाम पर भय का माहौल है. खास तौर पर मुस्लिमों में बीजेपी और आरएसएस के चलते यह डर का माहौल बढ़ता ही जा रहा है. बसपा सुप्रीमो ने इस दौरान बीजेपी पर जमकर निशाना साधा. मायावती ने कहा, ‘बीजेपी हिंदुत्व को अजेंडा बनाकर लोकसभा चुनाव लड़ने की तैयारी में जुट गई है. हिंदुओं को भ्रमित करने के लिए राम मंदिर का राग फिर अलापा जा रहा है, जबकि राम मंदिर बनने या भगवान को चढ़ावा चढ़ाने से आपकी जेब ही ढीली होगी.’

‘जातीय संघर्ष के पीछे हत्या की साजिश’

मायावती ने आगे कहा कि अभी हाल में हुए यूपी विधानसभा चुनाव में भी बीजेपी ने सोची-समझी साजिश के तहत ईवीएम में गड़बड़ी करके नुकसान पहुंचाया. इस बार हमारी पार्टी ईवीएम गड़बड़ी को लेकर चुप नहीं बैठी. यूपी के सभी जिलों हमने इसके खिलाफ प्रदर्शन किया. बीजेपी पर टिप्पणी करते हुए मायावती ने कहा कि सहारनपुर के शब्बीरपुर गांव में जुलूस निकालने के मामूली विवाद के चलते दंगों में दलितों का उत्पीड़न हुआ. ठाकुरों और दलितों के बीच जातीय संघर्ष के पीछे बीजेपी की मेरी हत्या कराने की साजिश थी.