रेलवे ने किया बड़ा बदलाव, अब एसी कोच में सफ़र करने के लिए इस चीज के देने होंगे पैसे

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: इंडियन रेलवे ने एसी कोच में सफ़र करने वाले यात्रियों के लिए नया नियम बनाया है. पहले यात्रियों को सफ़र के दौरान रेलवे की तरफ से कंबल, चादर, बेडरोल और तकिया दिया जाता था. लेकिन अब इस चीज के लिए आपको अलग से पैसे देने होंगे.

हाल ही में रेलवे बोर्ड के शीर्ष अधिकारियों और क्षेत्रीय व मंडल स्तर के अधिकारियों के बीच एक उच्च स्तरीय वीडियो कॉन्फ्रेंस में इस मुद्दे पर चर्चा की गई. वीडियो कॉन्फ्रेंस में शामिल तीन आला अधिकारियों ने इसकी पुष्टि की है. रिपोर्ट के मुताबिक, रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि हम इस दिशा में आगे बढ़ रहे हैं.



आपको बता दें कि कोरोना काल में इंडियन रेलवे ने यात्रियों को चादर, तकिया और कंबल देना बंद कर दिया था. रेलवे ने खुद का हर सामान इस्तेमाल करने को कहा था. लेकिन अब रेलवे ने नया बदलाव करते हुए यह कहा है कि अगर किसी को यह चीजें चाहिए तो उन्हें इसके लिए अलग से पैसे देने होंगे.

रेलवे में एक कंबल करीब 48 महीने तक सेवा में रहता है और महीने में एक बार धोया जाता है. सूत्रों के मुताबिक रेलवे फिलहाल कोई नया लिनेन आइटम नहीं खरीद रहा है. इसके अलावा पिछले कुछ महीनों में लगभग 20 रेलवे डिवीजनों ने निजी विक्रेताओं को सस्ते दामों पर स्टेशनों पर डिस्पोजेबल कंबल, तकिए और चादरें तैयार करने का कॉन्ट्रेक्ट दिया है.